पांच सौ वर्षों के बाद पहली बार यह अवसर आ रहा है, जब रामलला अपनी जन्मभूमि पर जन्मोत्सव मनाएंगे : CM योगी

बिजनौर
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिजनौर के नहटौर में नगीना से भाजपा प्रत्याशी ओम कुमार के पक्ष में जनसभा को संबोधित करते हुए जनता से समर्थन की अपील की। उन्होंने कहा कि रामनवमी की पावन तिथि यानी मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का जन्मदिन है। अभी से लाखों लोग अयोध्या धाम में जन्मोत्सव समारोह में पहुंच रहे हैं। पांच सौ वर्षों के बाद पहली बार यह अवसर आ रहा है, जब रामलला अपनी जन्मभूमि पर जन्मोत्सव मनाएंगे। हमारी पीढ़ियां धन्य हो गई। हम जन्मोत्सव कार्यक्रम के साक्षी बनेंगे।

सीएम योगी ने कहा कि भारत एकमात्र ऐसा देश है, जहां आराध्य को अपनी जन्मभूमि के लिए प्रमाण देना पड़ा। यह संकट कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने दिया। इन्होंने हमारी आस्था को संकटग्रस्त करने का प्रयास किया, लेकिन, सनातन समाज कहां मानने वाला था, वह प्रभु राम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिए संकल्पित था और पीएम मोदी के कारण उसे सफलता प्राप्त हुई। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस ने बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर को चुनाव हरवाया था। 2012 में सत्ता में आने पर सपा ने कहा था कि दलितों के स्मारकों को तुड़वाएंगे। इनकी मानसिकता केवल और केवल समाज को तोड़ने की रही है।

सीएम योगी ने कहा कि पीएम मोदी ने बाबा साहेब से जुड़े पंच तीर्थ का निर्माण करवाया। आपने सरकार बनाने में योगदान दिया, इसलिए यह श्रेय आपको जाता है। सही दिशा में गया एक वोट तस्वीर-तकदीर बदल देता है, गलत दिशा में गया वोट पहचान का संकट खड़ा कर देता है। कांग्रेस, सपा-बसपा दलदल में डूबे दल हैं। इन्हें अच्छाई से नफरत है। माफिया-अपराधियों को गले का हार बनाते हैं और उनका महिमा मंडन करते हैं। उनके घरों में जाकर फातिहा पढ़ते हैं, लेकिन कोई निर्दोष हिंदू दुर्घटना का शिकार हो जाता है तो इनके मुंह से संवेदना के एक शब्द भी नहीं निकलते हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सपा-बसपा के समय संत रविदास की जन्मभूमि सीर गोवर्धन में दिक्कतें होती थी। वहां सिंगल रूट था। वहां आने में लाखों श्रद्धालुओं को कठिनाई होती थी। आज सद्गुरु रविदास की धरती पर भव्य स्मारक, 25 फुट ऊंची प्रतिमा, पार्क और फोरलेन की सड़कें हमारी सरकार ने बनाया है।

Source : Agency

14 + 3 =

Name: धीरज मिश्रा (संपादक)

M.No.: +91-96448-06360

Email: [email protected]