आषाढ़ मास में हुई जोरदार बारिश से राजस्थान हुआ तर

जयपुर.

]प्रदेश में आषाढ़ मास में मानसून का पहला फेज शानदार रहा। सावन से पहले ही राजस्थान के ज्यादातर हिस्सों में जोरदार बारिश हुई है। राजधानी जयपुर में सोमवार को रुक-रुककर बारिश हुई, जिसके चलते सड़कों पर पानी भर गया और पूरे शहर में ट्रैफिक जाम की स्थिति बन गई। राजस्थान में अगले 3 दिनों तक अच्छी बारिश के संकेत मिल रहे हैं। मानसून की टर्फ लाइन जैसलमेर-चित्तौड़गढ़ से होकर गुजर रही है।

इसके प्रभाव से अब पश्चिमी राजस्थान में भी अच्छी वर्षा हो सकती है। पिछले 24 घंटों में पश्चिमी राजस्थान में चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ व पूर्वी राजस्थान में दौसा, करौली, जयपुर तथा दक्षिण क्षेत्र में आने वाले डूंगरपुर जिले में भारी बारिश दर्ज की गई। पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक 137 मिमी बारिश करौली के सूरोठ में तथा 141 मिमी बारिश चूरू के तारानगर में दर्ज की गई। इसके अलावा श्रीगंगानगर में 84 मिमी तथा पिलानी में 41.6 मिमी बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसान आज मंगलवार को 20 जिलों में यलो अलर्ट रहेगा। इनमें पूर्वी राजस्थान के अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, दौसा, डूंगरपुर, झालावाड़, झुंझुनू, प्रतापगढ़, राजसमंद, सीकर, सिरोही, उदयपुर में कुछ स्थानों पर मेघगर्जन के साथ बिजली गिरने की संभावना जताई है। वहीं पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, जालौर, जोधपुर, पाली और आसपास के जिलों में भारी बारिश की संभावना जताते हुए इन इलाकों के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है।

Source : Agency

3 + 1 =

Name: धीरज मिश्रा (संपादक)

M.No.: +91-96448-06360

Email: [email protected]