झारखंड में पीड़िता स्पेनिश महिला ने पुलिस को बताया आरोपी उस पर रेप के दौरान लगातार लात-मुक्के बरसाते रहे

दुमका

झारखंड के दुमका में शुक्रवार की रात स्पेन की महिला टूरिस्ट के साथ साथ गैंगरेप की जो घटना हुई है उसने पूरे देश को हिला कर रख दिया है. तीन युवकों को इस मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है. अब गैंगरेप की पीड़िता ने वारदात की जो हॉरर स्टोरी (आपबीती) सुनाई है वो रोंगटे खड़े कर देने वाला है.

पीड़ित महिला ने सुनाई आपबीती

स्पेनिश पीड़ित महिला ने एफआईआर में बताया है कि सातों आरोपी उस पर वारदात के दौरान लगातार लात-मुक्के बरसाते रहे. इतना ही नहीं पीड़ित विदेशी महिला ने बताया, 'रेप के आरोपियों ने उसके पति के हाथों को बांध दिया और उसे पीटते रहे.'


महिला ने कहा, 'मुझे लग रहा था कि आरोपी उस रात मेरी हत्या कर देंगे लेकिन भगवान की कृपा से अभी भी जिंदा हूं.' बता दें कि स्पेन की महिला से दुमका के हंसडीहा थाना क्षेत्र में गैंगरेप की ये वारदात हुई थी. मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी पीताम्बर सिंह खेरवार ने खुद मौके पर पहुंचकर मामले की जांच की थी.

बता दें कि 28 साल की स्पेनिश महिला और 64 साल का उसका पति बांग्लादेश से अलग-अलग बाइक टूर पर निकले थे और वो झारखंड के रास्ते नेपाल जा रहे थे. इसी दौरान स्पेन की महिला के साथ शुक्रवार की देर रात गैंगरेप की घटना हुई थी. घटना के बाद स्पेनिश महिला को सरैयाहाट सीएचसी में भर्ती कराया गया था. घटना हंसडीहा थाना क्षेत्र के कुरमाहाट के पास हुई थी.

तीन गिरफ्तार, चार आरोपियों की हो रही तलाश: एसपी

इस मामले को लेकर प्रेस कॉन्फेंस में एसपी पीतांबर सिंह खेरवार ने कहा कि महिला का मेडिकल टेस्ट कराया गया और इसमें बलात्कार की पुष्टि हुई. उन्होंने कहा कि अपराध में शामिल सात लोगों में से तीन को जेल भेज दिया गया है और अन्य चार को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा. उन्होंने कहा, "अन्य चार आरोपियों की पहचान कर ली गई है और तलाश जारी है, उन्हें जल्द ही पकड़ लिया जाएगा." खेरवार ने कहा, पुलिस नई दिल्ली में स्पेन के दूतावास के संपर्क में है.

बीजेपी ने राज्य सरकार को घेरा

झारखंड में विदेशी महिला से गैंगरेप की वारदात को लेकर बीजेपी ने भी राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

बीजेपी विधायक अनंत ओझा ने इस वारदात को लेकर कहा, 'यह राज्य के लिए कलंक है और राज्य में बिगड़ती कानून-व्यवस्था की स्थिति को दर्शाता है. यहां विदेशी भी सुरक्षित नहीं हैं. पुलिस को जल्द कार्रवाई करनी चाहिए और सरकार को भी इसका संज्ञान लेना चाहिए. ऐसे अराजकतावादियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए. यह सरकार पूरी तरह से विफल हो गई है.'

 

Source : Agency

8 + 12 =

Name: धीरज मिश्रा (संपादक)

M.No.: +91-96448-06360

Email: [email protected]