अतीक अहमद के वकील रहे विजय मिश्रा हिस्ट्रीशीटर घोषित,आजीवन होगी निगरानी

प्रयागराज
 उत्तर प्रदेश में प्रयागराज पुलिस ने गैंगस्टर अतीक अहमद के वकील रहे विजय मिश्रा को कैंटोनमेंट थाने में हिस्ट्रीशीटर के रूप में सूचीबद्ध किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने पहले ही अतीक अहमद के बेटों मोहम्मद उमर और अली अहमद को प्रयागराज जिले के खुल्दाबाद थाने में क्रमश '48बी' और '57बी' नंबर पर हिस्ट्रीशीटर के रूप में सूचीबद्ध कर दिया है। विजय मिश्रा हिस्ट्रीशीटर के रूप में सूचीबद्ध होने वाले अतीक अहमद का दूसरा वकील है। इससे पहेल जून में एक अन्य वकील खान सौलत हनीफ को हिस्ट्रीशीटर के रूप में सूचीबद्ध किया गया था।

नैनी के सेंट्रल जेल में बंद है विजय मिश्रा

पुलिस ने जानकारी देते हुए आगे बताया कि विजय मिश्रा के खिलाफ जिले के विभिन्न थानों में 9 मामले दर्ज हैं। मिश्रा को दरियाबाद के एक लकड़ी व्यापारी से रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। वह फिलहाल नैनी सेंट्रल जेल में बंद है। पुलिस ने वकील उमेश पाल हत्याकांड में भी विजय मिश्रा को आरोपी बनाया था। अतीक के गिरोह के लोगों पर पुलिस लगातार शिकंजा कस रही है और खान सौलत हनीफ को पहले ही उमेश पाल के अपहरण और हमले के आरोप में आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा चुकी है। खान सौलत हनीफ के खिलाफ 4 आपराधिक मामले दर्ज हैं।

पिछले साल हुई थी अतीक, अशरफ की हत्या

बता दें कि अतीक अहमद उत्तर प्रदेश का कुख्यात माफिया और नेता था। वह समाजवादी पार्टी से सांसद और उत्तर प्रदेश विधानसभा का सदस्य रह चुका था। पिछले साल जांच के लिए अस्पताल ले जाते समय उसकी व उसके भाई अशरफ की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। अतीक की हत्या के बाद से उसके गैंग के तमाम लोगों पर शिकंजा कसा गया और कइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई। पुलिस अतीक और अशरफ की पत्नियों शाइस्ता परवीन और जैनब की भी तलाश कर रही है और उनके ऊपर इनाम भी घोषित हैं।

Source : Agency

14 + 10 =

Name: धीरज मिश्रा (संपादक)

M.No.: +91-96448-06360

Email: [email protected]