मुंबई: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आखिरी लीग मुकाबले में मुंबई ने कोलकाता की टीम को हराकर प्लेऑफ के क्वालिफायर वन मैच के लिए जगह बना ली.  मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने मैच के बाद कहा कि उनकी टीम के लिए टूर्नामेंट का आखिरी चरण काफी मायने रखता है और उन्होंने धीमी शुरूआत के बाद मजबूत वापसी की आदत डाल ली है. रोहित का इशारा इस बात कि ओर था कि टीम शुरुआती मैच हारने के बाद शानदार वापसी करती है. 

प्वाइंट टेबल में टॉप करने का राज
इस सीजन में मुंबई ने आखिरी लीग मैच में कोलकाता को नौ विकेट से हराकर अंकतालिका में शीर्ष स्थान हासिल किया. जबकि कुछ मैच पहले वह प्लेऑफ में भी जगह बनाने के लिए संघर्षरत थी. ऐसा इस सीजन में ही नहीं हुआ है कि मुंबई की टीम ने अंक तालिका में काफी पीछे रहने के बाद प्लेऑफ में वापसी की है. रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमें पता है कि आईपीएल में आखिरी दौर के मेच काफी मायने रखते हैं. हमने हमेशा दूसरे हाफ में अच्छा प्रदर्शन किया है.’’ 
दो टीमों से था मुंबई का मुकाबला
रोहित ने कहा, ‘‘आईपीएल मजेदार टूर्नामेंट है जिसमें कोई भी टीम किसी को कभी भी हरा सकती है. हम छोटे छोटे कदम रखकर आगे जाना चाहते हैं.’’ अब पहले क्वालीफायर में मुंबई का सामना चेन्नई से होगा. चेन्नई की टीम शुरू से ही इस सीजन में शीर्ष पर रही लेकिन आखिरी मैच जीतकर मुंबई ने बेहतर नेट रनरेट के कारण उसे नंबर दो पर धकेल दिया. इसी के साथ अंक तालिका में 18 अंकों वाली तीसरी टीम दिल्ली कम नेट रनरेट के कारण तीसरे स्थान पर खिसक गई. 

टीम प्रयासों को भी दिया श्रेय
रोहित ने जीत का श्रेय टीम प्रयासों को देते हुए कहा, ‘‘मुझे सबसे ज्यादा खुशी इस बात की है कि हम टीम प्रयासों से जीते. हम कुछ खिलाड़ियों पर ही निर्भर नहीं रहे. जरूरत पड़ने पर सभी ने योगदान दिया.’’ अपने प्रदर्शन के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘मेरी बेटी मुझे यहां हर मैच में खेलते देखने आ रही है. पहले मैं रन नहीं बना सका लेकिन आज बनाये तो वह सो गई थी.’’ 
हार्दिक की भी हुई तारीफ
चेन्नई के खिलाफ क्वालीफायर के बारे में मुंबई के स्टार हरफनमौला हार्दिक पंड्या ने कहा, ‘‘चेन्नई की टीम अलग तरह की चुनौती है. यह रोमांचक मैच होगा. हम सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके फाइनल में जाना चाहेंगे.’ हार्दिक को इस मैच में शानदार गेंदबाजी के कारण मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया. हार्दिक ने इस मैच में चार ओवर में 20 रन देकर दो विकेट लिए और एक शानदार कैच भी पकड़ा. 
दिनेश कार्तिक ने बताया टीम की हार का यह कारण
वहीं केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक ने कहा कि उनकी टीम पावरप्ले के बाद लय नहीं पकड़ सकी. उन्होंने कहा, ‘‘जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे तब विकेट स्ट्रोक्स खेलने के लिये आसान नहीं था. मुंबई के गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन किया. दूसरी पारी में ओस से बल्लेबाजी आसान हो गई लेकिन यह कोई बहाना नहीं है.’’ इस मैच में कोलकाता के स्टार खिलाड़ी आंद्रे रसेल शून्य पर आउट हो गए थे और वे गेंदबाजी में भी मंहगे साबित हुए.