छपरा । बिहार के छपरा में एक बार फिर असंवेदनशीलता का एक मामला सामने आया है। यहां एक सड़क हादसे का शिकार हुए मेंदो युवकों ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया, लेकिन वहां मौजूद भीड़ तमाशबीन बनी रही। यहां तक कि कुछ लोग तो युवकों के तड़पने का वीडियो भी बनाते रहे। करीब एक घंटे बाद सूचना मिलने पर युवकों के परिजन मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी और दो युवकों की मौत हो चुकी थी। हादसे में घायल हुए एक युवक की हालत काफी गंभीर है और उसे पटना रेफर कर दिया गया है। घटना दरियापुर थाना के मटिहान के पास की है, जहां बीती रात बाइक सवार तीन युवकों की टक्कर एक खड़े ट्रक से हो गई। हादसे के बाद से ही ट्रक चालक ट्रक सहित फरार हो गया। कुछ लोगों ने युवकों के मोबाइल से उसके घरों को सूचित कर दिया, लेकिन अस्पताल नहीं पहुंचाया। जब परिजन मौके पर पहुंचे तब तक एक युवक की मौत हो चुकी थी, जबकि दो की हालत काफी गंभीर थी। इनमें से एक ने दिघवारा अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। जाहिर है ऐसी घटनाएं बताती हैं कि समाज कितना असंवेदनशील हो चुका है। वहीं, यह हादसा प्रशासकीय व्यवस्था पर भी सवाल उठा रहा है। दरअसल यह रास्ता पटना जाने का मुख्य रास्ता है और इस रास्ते पर पुलिस की पेट्रोलिंग कितनी है, इसकी भी पोल भी इस घटना ने खोल दी है।