नई दिल्‍ली : आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप (ICC Cricket World Cup 2019) पूर्व भारतीय कप्तान और अनुभवी विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी द्वारा बलिदान बैज वाले ग्‍लव्‍स पहनने पर पाकिस्‍तान की तरफ से भी ऐतराज जताया गया है. इमरान खान सरकार में विज्ञान और तकनीक मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने इस मुद्दे पर भारतीय मीडिया द्वारा की जा रही कवरेज पर निशाना साधा और कहा कि धोनी इंग्‍लैंड क्रिकेट खेलने गए हैं, न की महाभारत करने. हालांकि उनके इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स उनकी काफी खिंचाई भी करते नजर आ रहे हैं.

हुसैन ने ट्वीट कर कहा, "धोनी इंग्लैंड में क्रिकेट खेलने के लिए गए हैं, न की महाभारत के लिए. भारतीय मीडिया में मूर्खतापूर्ण बहस चल रही है. भारतीय मीडिया का एक वर्ग युद्ध से इतना प्रभावित है कि उन्हें सीरिया, अफगानिस्तान या रावंडा भेजा जाना चाहिए."
फवाद चौधरी के इस ट्वीट पर एक यूजर और वरिष्‍ठ पत्रकार प्रमोद कुमार सिंह ने लिखा, अपनी टीम ग्राउंड पर नमाज अदा करती है. ICC नियमावली के अनुसार, धार्मिक प्रथा से संबंधित किसी भी चीज़ की अनुमति नहीं है. एमएस धोनी ने बस अपने दस्ताने में बलिदान बैज पहना हुआ था. धोनी टैरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल हैं. ये क्‍या बकवास है फवाद श्री चौधरी? शांत हो जाओ.
एक अन्‍य यूजर्स निलेश नागर ने तस्‍वीर के साथ ट्वीट कर लिखा, पाकिस्‍तानी टीम ने मोहाली में ग्राउंड पर नमाज अदा की थी.