एसएसपी ने 180 दरोगाओं को भ्रष्टाचार से दूर रहने की दी नसीहत

वाराणसी
उत्तर प्रदेश के वाराणसी जनपद स्थित पुलिस लाइन में 180 दरोगा और उनके सामने पुलिस कप्तान थे। इस दौरान लगभग दो घंटे तक कप्तान ने न किसी की गलती बताई और न किसी को डांटा-फटकारा। उन्होंने सिर्फ यह समझाया कि बदलते दौर में हमें इस तरह से अपनी ड्यूटी करनी है कि पुलिस महकमे की कार्यशैली की आम आदमी तारीफ करे।

एसएसपी अमित पाठक ने जिले के थानों में तैनात 180 दरोगा को समझाया कि अन्य सरकारी विभागों की तरह पुलिस भी एक विभाग है। दरोगा के पद पर नियुक्त होने के साथ ही हमें यह अधिकार नहीं मिल जाता है कि हम किसी के साथ दुर्व्यवहार करें। हम सभी को आम आदमी से हमेशा अच्छे से पेश आना चाहिए। कभी भी धैर्य नहीं खोना चाहिए और सुनने की आदत डालनी चाहिए। हमारा काम अच्छा रहेगा तो लोग हमारी कार्यशैली की प्रशंसा करने के साथ ही हमारा सम्मान भी करेंगे।

इसके साथ ही एसएसपी ने दरोगाओं को भ्रष्टाचार से दूर रहने की नसीहत दी। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त होने से पहले खुद के बारे में और बच्चों व परिवार के बारे में विचार जरूर करें। समस्या या शिकायत लेकर सामने आने वाले फरियादी की जगह खुद को दो मिनट के लिए रख कर देखें तो कभी गलती नहीं होगी। खाकी वर्दी और इसकी गरिमा का सदैव ध्यान रखते हुए सभी का सम्मान करें। दो घंटे की बैठक के बाद एसएसपी ने बताया कि अगले रविवार को फिर 180 दरोगा को बुलाकर उनसे भी इसी तरह का संवाद करेंगे।

Source : Agency

3 + 14 =

Name: धीरज मिश्रा (संपादक)

M.No.: +91-96448-06360

Email: [email protected]