शाहजहांपुर। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने राष्ट्रपति को पत्र भेजकर प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पर दर्ज मुकदमें वापस लेने व रिहाई की मांग की है।

जितिन प्रसाद ने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के नाम पर देश में किया गया लॉकडाउन सरकार की सबसे बड़ी चूक है। आजादी के बाद पहली बार इतनी बड़ी संख्या में देश में पलायन हुआ है। सरकार ने लाकडाउन करने से पूर्व गरीबों और प्रवासी मजदूरों के बारे में सोचना भी उचित नही समझा गया। उन्होंने कहा कि यदि सरकार लॉकडाउन से पहले इनके बारे में सोच लेती तो प्रवासी मजदूरों को कठिनाइयों को सामना नहीं करना पड़ता।

पूर्व मंत्री ने कहा कि पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी ने सरकार का सहयोग करने के लिए एक हजार बसों की व्यवस्था की थी, लेकिन गरीब विरोधी योगी सरकार ने इसमें भी राजनीति करते हुए बसों को वापस भिजवा दिया। पार्टी द्वारा प्रदेश में लगभग 90 लाख लोगों तक खाना और राशन पहुंचाया गया। 22 जिलों में रसोईघर संचालित की गई। कांग्रेस कार्यकर्ता दिन रात सेवा कर रहे हैं। लेकिन भाजपा सरकार सत्ता के दम पर दमन कर रही है। योगी सरकार ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को निशाना बनाकर उन पर झूठे मुकदमें लिखकर राजनीतिक द्वेष भावना से कार्य किया है। जो कांग्रेस पार्टी कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने पार्टी की ओर से महामहिम राष्ट्रपति को ऑनलाइन पत्र भेजकर प्रदेश अध्यक्ष पर दर्ज मुकदमें तत्काल बापस लेने व उनकी रिहाई की मांग की है।