ऑफिस और अपने कारोबार में सफलता के लिए योजना के अनुसार काम करें। इसके साथ ही अपने आप को अपडेट रखें। इसके साथ ही सबके साथ बेहतरा तालमेल भी जरुरी है। आपके बॉस को काम करने का कौन सा तरीका पसंद है यह भी देखना होगा। क्या वह हर संवाद ईमेल से करते हैं या बातचीत के जरिये? वह कार्ययोजना पहले बना लेते हैं या एक दिन पहले ही तय करते हैं। सबसे जरूरी यह जानना है कि काम को लेकर उनकी आपसे क्या अपेक्षाएं हैं। उनके काम करने के तरीके और गोल को समझने की कोशिश करें तभी ज्यादातर मौकों पर आपके और उनके आइडियाज मैच कर पायेंगे। 
जानकारी दें 
काम में क्या चल रहा है, हमेशा उनको इस बात की जानकारी देते रहें। यह बात तब भी लागू होती है जब आपसे कोई गलती हो गई हो या कोई दूसरी बुरी खबर हो। हो सके तो उन्हें अपने रोजाना के काम का अपडेट देते रहें। आपने जो प्रगति की उसके भी जानकारी दें।
समयसीमा में पूरा करें काम 
यह भी ध्यान रखें कि बॉस को भी अपने सीनियर को जवाब देना होता है और उन पर भी काम का बोझ होता है। इसलिए बॉस हमेशा ऐसे लोगों लोगों से खुश रहते हैं जो अपने काम को गंभीरता से लेते हैं और इसे वक्त पर पूरा करते हैं लेकिन अगर बहुत ज्यादा काम दिया है जिसे वक्त पर पूरा करना पॉसिबल नहीं तो यह बात लागू नहीं होती है।
​समाधान लेकर जाएं
कोई भी ऐसे इंसान को पसंद नहीं करता जो हर समय समस्या या परेशानी बताये। हमेशा हल की ओर जायें। बदलाव के लिए हमेशा तैयार रहें, सकारात्मक रहकर आप हर समस्या का समाधान कर सकते हैं।
जो भी बात कहें उसे पूरा जरूर करें। अगर आपने किसी प्रॉजेक्ट या काम को लेकर कमिटमेंट किया है तो इसे किसी भी कीमत पर पूरा करें। याद रखें कि आपके बॉस ने काम को लेकर आप पर भरोसा किया है।
अच्छे वर्क एथिक्स रखें
अच्छे वर्क एथिक्स होने से न सिर्फ आपके और बॉस बल्कि साथ काम करने वालों के साथ भी रिश्ते मजबूत होंगे। सीनियर्स के साथ अच्छे रिश्ते रखें लेकिन फालतू बातें करने से बचें। याद रखें कि मेहनत करने का कोई दूसरा विकल्प नहीं है। हर काम में अपना पूर्ण प्रदर्शन करें। समय पर ऑफिस आएं और जाएं और सबसे जरूरी है कि काम के वक्त सोशल मीडिया से दूर रहें।