बांसवाड़ा. शहर के कोतवाली थाना इलाके की रातीतलाई कॉलोनी में एक महिला और उसके दो मासूम बच्चों (Woman and her two innocent children) की गला रेतकर निर्मम हत्या (Ruthless killing) कर दी गई. वारदात के बाद से महिला का पति फरार (Husband absconding) है. पुलिस को अंदेशा है कि वारदात में उसका हाथ हो सकता है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है. शवों को स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है. वारदात की गंभीरता को देखते हुये पुलिस के आला अधिकारियों ने भी मौका मुआयना किया है. हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. घटना के बाद रातीतलाई कॉलोनी में सनसनी फैल गई.

मौके से चाकू बरामद

पुलिस अधीक्षक कावेन्द्र सिंह सागर ने बताया कि रातीतलाई कॉलोनी में एक महिला और उसके दो बच्चों की गला रेत कर हत्या कर दी गई है. घटना के बाद से महिला का पति मौके पर नहीं है. पड़ोसियों ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी थी. इस पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और हालात को देखा. वहां देवेन्द्र शर्मा के घर में उसकी पत्नी नीतू शर्मा, पुत्र आयुष और पुत्री श्वेता के खून से लथपथ शव पड़े मिले. पुलिस ने मौके से चाकू बरामद किया है. पति देवेन्द्र शर्मा घटना के बाद से मौके से फरार है.

पुलिस प्रारंभिक रूप से पति देवेन्द्र शर्मा को ही मान रही है संदिग्ध

बकौल पुलिस अधीक्षक सागर एफएसएल टीम ने मकान की पूरी छानबीन की है. मौके के हालात को देखते हुये पुलिस प्रारंभिक रूप से पति देवेन्द्र शर्मा को ही संदिग्ध मान रही है. पुलिस पूरे मामले की बारिकी से जांच मे जुटी है. तीनों शवों को एमजी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है. अभी तक हत्या के कारणों का कोई खुलासा नहीं हो पाया है. पुलिस देवेन्द्र शर्मा के पड़ोसियों से परिवार के बारे में जानकारी जुटाने में लगी है. लेकिन अभी तक कोई क्लू पुलिस को नहीं मिला है. वारदात के बाद कॉलोनी में सन्नाटा पसरा हुआ है और लोग सहमे हुये हैं.