किसान कर रहे है कृषि ऋण माफी का इंतजार,कब होगी ऋणमाफी: जीतू पटवारी
चुनाव परिणाम आने के बाद यह सरकार नहीं रहेगी: जीतू पटवारी

भोपाल।  मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने बुधवार को शिवराज सरकार और ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जमकर निशाना साधा। जीतू पटवारी ने कोरोना महामारी के नियंत्रण को लेकर शिवराज सरकार से सवाल किया कि अब वो लोग कहा छुपकर बैठ गए जो कहते थे कि शिवराज सिंह जी और नरेन्द्र मोदी जी की सूझबूझ से कोविड की बीमारी भारत में असर नहीं करेगी। लेकिन स्थिति अब नियंत्रण से बाहर हो रही है दस लाख के लगभग मरीज हो गए है। इंदौर और अन्य शहर में लगातार कोरोना संक्रमित बढ़ते जा रहे है जिसकी वजह से एक बार फिर लॉक डाउन की स्थिति बन रही है। जीतू पटवारी ने कहा कि लॉकडाउन के चलते बेरोजगारी सिर चढ़कर बोल रही है, लोगों को खाने पीने की परेशानी घर परिवार में आ रही है। इसका असर यह हो रहा है कि लूट और चोरीयाँ होने लगी है, आत्महत्याएं होने लगी है। जीतू पटवारी ने कहा कि मंदिर में जाना मना है, स्कूल बंद है, कालेज बंद है, शहरों में बाजारों में भी प्रतिबंध है। भीड़भाड़ नहीं करना है धारा 144 लगी हुई है। लेकिन चुनावी रैलीयां चालू है। शिवराज सिंह चैहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया जगह-जगह चुनावी भाषण देकर लोगों को समझाने में लगे है कि हमने लोकतंत्र की हत्या की है हमें वोट दो। वही किसानों के भी फसलों के दाम नहीं मिल रहा है। शिवराज जी आप किसान हितैषी होने की बात करते हो किसानों को पैसा कब दोगें यह बताओ। किसान अब फिर आत्महत्या करने को मजूबर हो रहे है। जीतू पटवारी ने कहा कि कमलनाथ सरकार में किसानों की आत्महत्या रूकी थी जो अब फिर बढ़ गई है। कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी जीतू पटवारी ने कहा कि भाजपा सरकार का एक सूत्रीय कार्यक्रम चल रहा है विधायकों को प्रलोभन देकर उन्हें खरीदने का। हम निर्वाचन आयोग से जल्द से जल्द चुनाव करवाने का आग्रह करेगें और कांग्रेस पार्टी का प्रतिनिधि मंडल चुनाव आयोग जाकर इस मामले पर ज्ञापन देगा। जीतू पटवारी ने कहा कि जिस दिन प्रदेश की 25 विधानसभा सीटों के परिणाम आएगें उस दिन शिवराज सरकार का अंत हो जाएगा। उन्होनें कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया अब जवाब नहीं दे रहे है जो कहते थे सड़को पर आउंगा अब किसानों के दो लाख तक के ऋणमाफ कब होगें कब सड़क पर आओगे। वह बताए, अतिथि विद्वानों और शिक्षकों का नियमितिकरण कब होगा उनका वेतन कब मिलेगा यह बताए। उन्होनें कहा कि पिछली सरकार में भ्रष्ट्राचार था वह बताएं कि उनके समर्थक मंत्रीयों के पास जो विभाग थे उनमें क्या भ्रष्ट्राचार हुआ है। जीतू पटवारी ने कहा कि अगर भ्रष्टाचार हुआ है तो उसके सबूत पेश करें। आरोप प्रत्यारोप की राजनीति न करें मुझे लगता है कि आप फ्रस्ट्रेट हो गए है।
जीतू पटवारी ने राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग लोकसेवा की बात करते थे उनके खिलाफ लोग कोर्ट गए है। कोर्ट में जाकर सरकारी ट्रस्ट प्राइवेट ट्रस्ट कैसे हो गए? सरकारी जमीनों पर प्राइवेट नाम कैसे डल गए?
पूरे ग्वालियर-चंबल में इस बात की चर्चा है कि क्या कारण है कि अपने आपको राजा-महाराजा के परिवार से आने वाला बताने वाले गरीबों जमीने पर कब्जा करने और छीनने में लगे है। जीतू पटवारी ने कहा कि भाजपा ने खरीद फरोख्त करके षड्यंत्र करके सरकार बनाई। 100 दिन तक मंत्रिमंडल नहीं बना और 10 दिन तक विभाग नहीं बंटे और अब विभाग बंटे तो अखबरों ने लिखा मलाईदार विभागों के झगड़े और मलाईदार विभागों के लिए इतने दिन देरी हुई। कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया है जिस सरकार के कार्यकाल में चार महिनें से फाइले पेडिंग पड़ी है,
जिस सरकार ने विकास को अवरूद्ध कर रखा है उस पर पार्टी के पूर्व मंत्रियों पर हमारे विधायकों की नजर रहेगी। बीजेपी के पूर्व मंत्रीयों पर हमारे नेता निगाह रखेंगे और भ्रष्ट्राचारियों की पोल खोलेंगे ।
इस दौरान जीतू पटवारी ने कहा की कथित पत्रकार प्यारे मियां जिस पर बच्चियों के यौन शोषण के आरोप लगे है उसकी निष्पक्ष जाँच होनी चाहिए। वह कई रसूखदार लोगों के साथ फोटो में दिख रहा है। जाँचकर उस पर कडी कार्यवाही हो। जीतू पटवारी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की तरफ से आगामी मानसून सत्र के दौरान कमलनाथ ही नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में होगें।