जयपुर. पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) की सक्रियता से राजस्थान के मौसम में बदलाव (Change in weather) का दौर जारी है. राजधानी जयपुर में दोपहर में अचानक मौसम ने पलटा खाया और ठंडी हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी हुई. मंगलवार को सुबह तक बीते 24 घंटों में सर्वाधिक 15 मिलीमीटर बारिश (Rain) पूर्वी राजस्थान (Rajasthan) के भरतपुर के वैर में दर्ज की गई है. वहीं पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर में 12.8 एमएम बारिश हुई है.

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से आज भी परिसंचरण तंत्र बना हुआ है. राज्य के उत्तरी भागों से ट्रफलाइन गुजर रही है. इसके साथ ही अरब सागर की खाड़ी से हवाओं के साथ उपयुक्त मात्रा में नमी भी आ रही है. इस मौसम तंत्र के प्रभाव से आगामी तीन दिन जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर तथा भरतपुर संभाग के जिलों में तेज आंधी तूफान की संभावना बनी हुई है.

एक दो स्थानों पर ओलावृष्टि के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक इसकी गति प्रति घंटे 40 से 50 किलोमीटर रहने की संभावना है. इस दौरान बिजली की चमक के साथ हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने की भी प्रबल संभावना है. 12-13 मई को उत्तरी भागों में एक दो स्थानों पर ओलावृष्टि भी होने के भी आसार जताये गये हैं. वहीं 14 मई को केवल उत्तरी भागों में मध्यम दर्जे का रेतीला तूफान आने की संभावना है.
जयपुर में भी हल्की बारिश

जयपुर में आज दोपहर में मौसम में आये बदलाव के बाद तेज ठंडी हवाओं के कारण गर्मी काफूर हो गई. उसके बाद एक बाद हल्की बूंदाबांदी हुई. कुछ देर बार बूंदाबांदी थम गई और तेज हवाओं ने फिर गति पकड़ी. दोपहर 2 बजे हल्की बारिश का दौर शुरू हो गया. बारिश से होने से तापमान में गिरावट आ गई है.