भोपाल : प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजन संबंधी समिति की पहली वीडियो कॉन्फ्रेंस सोमवार को सम्पन्न हुई। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टोरेट भोपाल से वीडियो कॉन्फ्रेंस में भाग लिया। केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने जानकारी दी कि 15 अगस्त 2023 को आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाई जाना है। इसके लिए आजादी का अमृत महोत्सव 75 सप्ताह पहले 15 अगस्त 2022 से आरंभ होगा। इस अवधि में 75 विविध स्थानों पर 75 आयोजन किए जाएंगे।

गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा कि आयोजन के संबंध में यह परिचयात्मक बैठक है। इसका उद्देश्य आयोजन के संबंध में सुझाव प्राप्त करना है। लगातार 75 सप्ताह चलने वाले इस आयोजन को जन-आंदोलन का स्वरूप दिया जाना है, ताकि हमारी युवा पीढ़ी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के त्याग, तपस्या, समर्पण और भावनाओं से परिचित हो सकें। लाखों गुमनाम नायक-नायिकाओं को जनता के सामने लाना और स्थानीय स्तर पर हुए आंदोलनों का पहचान प्रदान करना भी आयोजन का उद्देश्य है। युवा पीढ़ी को हमारे स्वर्णिम इतिहास से परिचय कराना और वर्ष 2047 तक की हमारी सोच क्या है, इसे प्रस्तुत करना भी कार्यक्रम का उद्देश्य है। अमृत महोत्सव में एक भारत-श्रेष्ठ भारत, आत्म-निर्भर भारत, विश्वगुरू भारत, विचार, उपलब्धियाँ और संकल्प, हमारी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और अनसंग हीरोज थीम पर गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। भोपाल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रमुख सचिव संस्कृति एवं जनसंपर्क श्री शिवशेखर शुक्ला भी सम्मिलित हुए।