भोपाल में बच्चा बदलने से हंगामा:जेपी हॉस्पिटल में बताया लड़का हुआ, मामा ने फोटो खींचकर रिश्तेदारों को भेज दी; 20 मिनट बाद डॉक्टर बोले- गलती हो गई, आपके यहां लड़की हुई है
 

भोपाल के जेपी हॉस्पिटल में बच्चा बदलने के मामले में पीड़ित मोबाइल फोन पर बच्चे का फोटो दिखाता हुआ।
बहन के यहां लड़का होने की खुशी में सभी रिश्तेदारों तक को लड़के की फोटो भेजी
जेपी हॉस्पिटल के डॉक्टर अब कुछ बोलने को तैयार नहीं

भोपाल के सरकारी जेपी हॉस्पिटल (जय प्रकाश अस्पताल) में बच्चा बदलने का मामला सामने आया है। महिला के भाई ने लड़का मिलने के बाद उसके फोटो खींची और सभी रिश्तेदारों को भेजी दी। करीब 20 मिनट बाद अस्पताल प्रबंधन ने कहा कि गलती हो गई। आपके यहां तो बेटी हुई है। ऐसा कहते हुए वे लड़की देकर लड़के को अपने साथ ले गए। इसके बाद अस्पताल में हंगामा मच गया। हबीबगंज पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराने की कोशिश की।

अस्पताल में हंगामा होने की सूचना पर सिविल सर्जन भी मौके पर पहुंचे और सफाई दी।

जानकारी के अनुसार, गुरुवार सुबह करीब 10.30 बजे पिंकी पटेल नाम की एक महिला को बच्चा हुआ। पिंकी के भाई गोलू को डॉक्टर ने बच्चा देते हुए बताया कि बेटा हुआ है। गोलू ने अपने सभी रिश्तेदारों को बच्चे की फोटो भेज दी। करीब 20 मिनट तक ही गोलू के चेहरे पर खुशी रह पाई और डॉक्टरों ने उसे बच्चा बदलना की जानकारी दी। इस पर परिजन ने अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर के सामने हंगामा शुरू कर दिया। इस पर सिविल सर्जन तिवारी और अन्य कर्मचारी भी वहां पहुंच गए। हबीबगंज पुलिस थाना के टीआई भी मौके पर पहुंचे।

पुलिस से परिजन ऑपरेशन थियेटर के बाहर शिकायत करते हुए।

पहले कहा लड़का हुआ, फिर बेटी दे दी

गोलू ने बताया कि डॉक्टरों ने ही बताया था कि बेटा हुआ है। उन्होंने उसे उनकी गोद में भी दे दिया था। थोड़ी देर बाद आए और बोले कि यह लड़का उनका नहीं है। उनके यहां बेटी हुई है। इसके बाद वे लड़की देकर लड़का ले गए। अब कोई कुछ बता नहीं रहे हैं। सिविल सर्जन से मिलने के लिए तीन-तीन घंटे खड़े रहना पड़ता है। अब वे हमें समझा रहे हैं। हम चाहते हैं कि दोनों बच्चों का डीएनए टेस्ट हो।

गोलू ने बच्चों के डीएनए टेस्ट कराए जाने की मांग की है।

पुलिस मौके पर पहुंच गई है

इधर, सीएसपी हबीबगंज भूपेंद्र सिंह ने बताया कि अभी जानकारी आई है। पुलिस को मौके पर भेजा गया है। टीआई खुद वहां पहुंचे हैं। परिजन की बात सुनने के बाद मामले की जांच की जाएगी। अभी कुछ नहीं कह सकते हैं।