गोंडा, राजस्थान के बाद उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एक पुजारी पर हमला हुआ है. गोंडा में राम जानकी मंदिर के पुजारी सम्राट दास को शनिवार रात में गोली मार दी गई. डॉक्टरों ने घायल स्थिति में उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया है. यह घटना इटियाथोक थाना अंतर्गत तिर्रे मनोरमा की है. बताया जा रहा है कि बदमाशों ने मंदिर परिसर में घुसकर पुजारी को गोली मारी है. महंत सम्राट दास पर जमीन विवाद के चलते यह हमला हुआ है. बताया जा रहा है कि उन पर जमीन विवाद को लेकर पहले भी हमले हुए हैं. बदमाशों ने राम जानकी मंदिर मनोरम उद्गम स्थल के पुजारी को गोली मारी है. जानकारी के अनुसार रामविलास वेदांती मठ के संरक्षक हैं. बदमाशों ने मंदिर परिसर में घुसकर महंत को गोली मारी है. सुरक्षा के नाम पर होमेगार्डों की तैनाती की गई थी.

जमीन पर थी भूमाफियाओं की नजर
गोली लगने से महंत सम्राट दास की हालत नाजुक बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि मंदिर की जमीन पर भूमाफियाओं की नजर थी. प्रधान अमर सिंह समेत कई लोगों पर महंत ने हमला करने का आरोप लगाया है. पुलिस के आलाधिकारी मामले की कर जांच पड़ताल कर रहे हैं. पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी गई है.

राजस्थान में पुजारी को जिंदा जलाया था
गोंडा की तरह ही राजस्थान के करौली में जमीन विवाद में पुजारी को जिंदा जला दिया गया था जिसमें साधु की मौत हो गई थी. राजस्थान के करौली जिले के बुकना गांव में मंदिर के जमीन विवाद में कुछ लोगों ने पुजारी को जिंदा जला दिया था. गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. 

बागपत में नदी में मिली साधु की लाश
बागपत शहर कोतवाली क्षेत्र में यमुना नदी से साधु का शव मिलने से शनिवार को सनसनी फैल गई थी. साधु के शरीर पर चोट के कई निशान भी मिले हैं. अज्ञात साधु की पहचान नहीं हो पाई थी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की शिनाख्त कराने का काफी प्रयास किया, मगर पहचान नहीं हो पाई. इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और मामले की पड़ताल में जुट गई है.