कोलकाता । विश्व फुटबॉल की शीर्ष संस्था (फीफा) ने कहा है कि इस साल भारत में होने वाला फीफा अंडर-17 महिला विश्वकप अब अगले साल 17 फरवरी से 7 मार्च के बीच होगा। पहले यह टूर्नामेंट इसी साल 2 से 21 नवंबर के बीच खेला जाना था पर कोरोना महामारी के कारण इसे स्थगित करना पड़ा। इस प्रतियोगिता में 16 टीमें भाग लेंगी और इसका आयोजन पांच स्थलों पर किया जाएगा। अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) और स्थानीय आयोजन समिति (एलओसी) ने कहा कि ये मुकाबले भारत के पांच शहरों कोलकाता, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, अहमदाबाद और नवी मुंबई में खेले जाएंगे। समिति ने कहा कि, " हम  एक शानदार टूर्नामेंट की मेजबानी करने की उम्मीद कर रहे हैं जिससे भारत में महिला फुटबॉल को बढ़ावा मिलेगा। सभी मेजबान शहरों ने खेल के प्रति पूरी प्रतिबद्धता दिखाया है और अब तारीख आगे बढ़ने से इनके लिए तैयारी और भी आसान हो जाएगी। 
भारत में यह टूर्नामेंट पहली बार होने वाला है। ऐसे में फुटबॉल प्रशंसक इसका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। फीफा ने कहा है की कि टूर्नामेंट के मानदंड पहले जैसे ही रहेंगे। इस तरह से एक जनवरी 2003 या उसके बाद और 31 दिसंबर 2005 या उससे पहले जन्में खिलाड़ियों को ही इसमें भाग लेने की अनुमति है। फीफा ने कहा, ‘कोविड-19 महामारी के प्रभाव और फीफा परिसंघ कोविड-19 कार्य समूह की सिफारिशों के आधार पर टूर्नामेंट के लिये नयी तिथियों की घोषणा की है।