तुलसी का काढ़ा बनाने की सामग्री:
तुलसी के पत्ते - 5-10
छोटी इलायची - 2 से 3
काली मिर्च पाउडर - 1/2 चम्मच
अदरक - 1 इंच

काढ़ा बनाने की विधि:
एक पैन में 1,1/2 कप पानी डालकर गर्म करें। इसके बाद इसमें तुलसी के पत्ते, इलायची, काली मिर्च, अदरक डालकर 20 मिनट तक पकाएं। जब पानी आधा रह जाए तो इसे छानकर ठंडा कर लें। इसके बाद इसका सेवन करें। आप चाहें तो स्वाद बदलने के लिए इसमें शहद मिक्स कर सकते हैं।

कब पिएं तुलसी का काढ़ा?
सुबह चाय की जगह 1 कप तुलसी का काढ़ा पीएं। इससे इम्यूनिटी तो बढ़ेगी , साथ ही मेटाबॉलिज्म भी तेज होगा, जिससे वजन घटाने में मदद मिलेगी। इसके अलावा दोपहर व शाम के समय भी 1 कप तुलसी का काढ़ा पी सकते हैं। आप चाहें तो काढ़े की बजाए तुलसी की चाय बनाकर भी पी सकते हैं।

तुलसी का काढ़ा पीने के फायदे
. एंटी-इंफ्लेमेट्री, एंटी-बैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर यह काढ़ा पाचन क्रिया को सही रखता है, जिससे कब्ज, एसिडिटी की समस्या दूर रहती है।
.  यह काढ़ा शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को निकालकर बॉडी तो डिटॉक्स करता है, जिससे इंफैक्शन का खतरा कम होता है।
. इससे सर्दी-खांसी, जुकाम, गले की खराश व वायरल फीवर में भी आराम मिलता है।
. रोजाना सुबह इसका सेवन करने से वजन घटाने में भी मदद मिलती है।
. इससे कोलेस्ट्राल लेवल कंट्रोल में रहता है, जिससे आप दिल की बीमारियों से बचे रहते हैं। साथ ही तुलसी वाला काढ़ा पीने से हार्ट अटैक का खतरा भी कम होता है।
. जिन महिलाओं को पीरियड्स समय पर नहीं आते उन्हें भी यह काढ़ा पीने से फायदा होता है।