केनोशा । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने केनोशा हिंसा को  घरेलू आतंकवाद बताते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी के नेताओं को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया है। जैकब ब्लेक नामक अश्वेत व्यक्ति की पुलिस गोलीबारी में जख्मी होने के बाद उपजे जनाक्रोश के बीच ट्रम्प स्थिति का मुआयना करने मंगलवार को केनोशा पहुंचे। ट्रम्प ने हिंसा को तो  घरेलू आतंकवाद का नाम दे दिया लेकिन लोगों के इस गुस्से और प्रदर्शन के मुख्य कारण जैकब ब्लेक का जिक्र तक नहीं किया।
राष्ट्रपति ने इस घटनाक्रम के लिए डेमोक्रेटिक नेताओं की भूमिका पर सवाल उठाए। ट्रम्प ने कहा यह कोई शांतिपूर्ण प्रदर्शन नहीं बल्कि एक घरेलू आतंकवाद था। ट्रम्प ने उनकी संघीय सहायता की पेशकश को तत्काल स्वीकार नहीं करने के लिए डेमोक्रेट की निंदा करते हुए दावा किया वह हमारा हस्तक्षेप नहीं चाहते थे। गवर्नर फोन नहीं करना चाहते थे, मेयर फोन नहीं करना चाहते थे।
केनोशा में हिंसा के दौरान करीब 20 लाख डॉलर का नुकसान होने का अनुमान है। शहर की जन निर्माण निदेशक, शेल्ली बिलिंग्सले ने सोमवार रात स्थानीय नेताओं को यह जानकारी दी, कि पिछले सप्ताह हिंसा में बर्बाद हुई चीजों को बदलने में कितना खर्चा आएगा। अश्वेत जेकब ब्लेक नाम के व्यक्ति को पुलिसकर्मियों द्वारा गोली मारने का वीडियो वायरल होने के बाद कई शहरों में नस्लवाद से जुड़े अन्याय को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे। मिनियापोलिस में पुलिस हिरासत में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बादअमेरिका में नस्लवाद को लेकर हिंसा जारी है।