रायपुर :   मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने एक नवंबर 2020 को राज्य स्थापना दिवस को राज्य के 14 नगर निगमों में पैथालॉजी टेस्ट सुविधा युक्त मोबाइल मेडिकल यूनिट का शुभारंभ किया था। शुभारंभ के साथ ही यह मोबाइल मेडिकल यूनिट स्लम इलाकों में पहुंच रही है। कैंप के माध्यम से आसपास के लोगों का स्वास्थ्य जांच करने के अलावा बीमारी दूर करने दवाएं भी दी जा रही है। विगत सौ दिनों में मोबाइल मेडिकल यूनिट से सवा दो लाख से अधिक मरीजों का उपचार हो चुका है। एक लाख 96 हजार से अधिक मरीजों को दवाइयां और 63 हजार 865 मरीजों का लैब टेस्ट भी हुआ है। 

      अपने ही घर के पास, अपने ही वार्ड में मुख्यमंत्री शहरी स्लम योजना के अंतर्गत मोबाइल मेडिकल यूनिट की बस पहुचने और चंद मिनटों में ही जांच के बाद दवा मिल जाने पर इसमें इलाज कराने आने वाले मरीज खुश है। अपना रुपया और कीमती समय बर्बाद नहीं होने पर मरीज मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना की जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने शहर में संचालित शिविर स्थल पर जाकर एमएमयू की व्यवस्था देखी तो अनेक लोगों ने इस योजना की प्रशंसा की और कहा कि इससे झुग्गी इलाकों में रहने वाले गरीब परिवारों का निःशुल्क में घर के पास ही आसानी से इलाज हो रहा है। मंत्री डॉ. डहरिया ने भी लोगों से शिविर में आकर इसका लाभ उठाने की अपील भी की। एमएमयू में इलाज कराने वाले श्री रमेश पाण्डेय, घनाराम यादव, श्री रणदहल साहू,, श्रीमती ब्रिज बाई, श्रीमती भारती, रविकांत, श्रीमती जाहिदा बेगम सहित अनेक लोगों ने योजना की प्रशंसा की।

4129 कैंपों में दो लाख 28 हजार से अधिक का उपचार

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया द्वारा राज्य स्थापना दिवस एक नवंबर 2020 को मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत मोबाइल मेडिकल यूनिट का शुभारंभ किए जाने बाद सौ दिनों में 4129 शिविर प्रदेश के 14 नगर निगमों में लगाए जा चुके हैं। इन 4129 शिविरों में 2 लाख 28 हजार 20 मरीजों का स्वास्थ्य जांच कर लाभान्वित किया गया है। रायपुर में सबसे अधिक 1119 शिविर में 55 हजार 566 मरीज लाभान्वित हुए हैं और 49295 मरीजों को दवा का वितरण किया गया है। कोरबा में 482 कैंप में 24304, बिलासपुर में 314 कैंप में 26023, दुर्ग में 315 कैंप में 17547 और राजनांदगांव में 311 शिविर में 14498 मरीज लाभान्वित हुए हैं। इसी तरह भिलाई में 238 कैंप में 16486, रिसाली में 155 कैंप में 8285 भिलाई चरोदा में 157 कैंप में 8757, अंबिकापुर में 202 कैंप में 12321, जगदलपुर में 250 कैंप में 10925रायगढ़ में 254 कैंप में 14008, कोरिया चिरमिरी में 76 कैंप में 4214, बीरगांव में 124 कैंप में 7325 मरीज लाभान्वित हुए हैं।

एक लाख 96 हजार 379 को दवा वितरित

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत सौ दिनों में एक लाख 96 379 मरीजों को दवाओं को वितरण किया गया है। रायपुर में सर्वाधिक 49295, बिलासपुर में 24065, कोरबा में 19561, भिलाई में 15322, दुर्ग में 14675, राजनांदगांव में 13739, रायगढ़ में 13289, अंबिकापुर में 10073, बीरगांव में 6212, रिसाली में 5997, भिलाई चरोदा में 7870 चिरमिरी में 3430, जगदलपुर में 7497 मरीजों को दवा का वितरण किया गया है।

63 हजार 865 का हुआ लैब टेस्ट

मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से 4129 कैंपों में लगभग 63 हजार 865 मरीजों का लैब टेस्ट भी हुआ है। सबसे अधिक रायपुर नगरीय क्षेत्र के मरीजों का लैब टेस्ट हुआ। रायपुर में 18230, बिलासपुर में 5111, कोरबा में 7463, अंबिकापुर में 5506, दुर्ग में 2889, भिलाई में 4138 और राजनांदगांव में 3901 मरीजों का लैब टेस्ट हुआ है। मोबाइल मेडिकल यूनिट में अत्याधुनिक जांच की मशीनें लगी हुई है। इन मशीनों से बीपी, शुगर, खून जांच, पेशाब की जांच मौके पर ही की जाती है। सर्दी, बुखार की दवाइयों के साथ-साथ बीपी शुगर जैसी बीमारियों की नियमित जांच के साथ दवाइयां भी मुफ्त में दी जा रही है। 

दाई-दीदी क्लीनिक में 13955 मरीज हुए लाभान्वित

नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा 19 नवंबर को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं विभागीय मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया ने प्रदेश के तीन नगर निगम रायपुर, बिलासपुर और भिलाई नगर निगम के लिए दाई-दीदी क्लीनिक का शुभारंभ करते हुए स्पेशल मोबाइल मेडिकल यूनिट का शुभारंभ किया था। दाई-दीदी क्लीनिक का तीनों नगर निगम में अच्छा रिस्पांश मिल रहा है।  विगत 81 दिनों में 195 कैंपों में 13955 महिलाएं इससे लाभन्वित हुई है। 3909 मरीजों का लैब टेस्ट, 13045 मरीजों को दवा वितरित किया गया है। इस योजना का सबसे अधिक लाभ बिलासपुर नगर निगम क्षेत्र की 5636 महिलाओं ने उठाया है। रायपुर में 3699 और भिलाई में 4620 महिलाओं ने उपचार कराया है।