दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। गोवा अपनी खूबसूरती के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है। हर साल बड़ी संख्या में देसी-विदेशी पर्यटक गोवा घूमने आते हैं। हालांकि, कोरोना वायरस महामारी के चलते इस साल गोवा की बीचों पर भीड़भाड़ नजर नहीं आई, लेकिन अब जबकि गोवा को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है, तो पर्यटकों की आवाजाही धीरे-धीरे बढ़ने लगी है।

खासकर गोवा में संक्रमितों की संख्या कम होने की वजह से पर्यटक गोवा को प्राथमिकता दे रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकार ने पर्यटकों के लिए नई गाइडलाइंस जारी की है, जिनका पालन करना अनिवार्य कर दिया गया है। अगर आप भी Covid-19 के समय में सैर सपाटे के लिए गोवा जाना चाहते हैं, तो आपको इन नियमों का पालन करना होगा। अगर आपको नए नियम नहीं पता है, तो आइए जानते हैं-
-पर्यटक के मोबाइल में आरोग्य सेतु रहना अनिवार्य है। जबकि आरोग्य सेतु में आपके स्वस्थ होने की पुष्टि भी होनी चाहिए।
-मास्क पहना अनिवार्य है। पर्यटक को अपने साथ दस्ताने, सैनिटाइज़र आदि रखने की सलाह दी गई है। जबकि शारीरिक दूरी का भी पालन करना होगा। 
-पर्यटकों के पास कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट होना चाहिए। जबकि कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट महज  48 घंटे पहले की  की सर्टिफिकेट ही मान्य है।
-अगर किसी पर्यटक के पास कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट नहीं है, तो उसे गोवा में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उस पर्यटक को बैरंग वापस लौटना पड़ सकता है।
-पर्यटक हवा अथवा सड़क किसी रास्ते से गोवा में प्रवेश करता है, तो सबसे पहला उसका कोरोना टेस्ट होगा। अगर कोई पर्यटक कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है, तो वापस भेजा जा सकता है या उसे क्वारंटीन किया जाएगा। यह क्वारंटीन प्रकिया तब तक होगी, जब तक कि पर्यटक का कोरोना रिपोर्ट नेगटिव नहीं आ जाता है।
-पर्यटकों को राज्य पर्यटन विभाग द्वारा प्रमाणित होटलों में ही ठहरना होगा। इसके लिए उन्हें आने से पहले बुकिंग करानी होगी। अपने जान-पहचान के घर पर ठहरने की अनुमति नहीं दी गई है।