टोक्यो ।  भारत की भाविनाबेन पटेल ने टोक्यो पैरालिंपिक खेलों में भारत को पहला पदक दिलाया है। भाविनाबेन  को टेबल टेनिस क्लास 4 स्पर्धा के महिला एकल के खिताबी मुकाबले में चीन की झाउ यिंग के हाथों 7-11, 5-11, 6-11 से हार के साथ ही रजत पदक ही मिल पाया। भाविनाबेन ने पहले गेम में यिंग को अच्छी टक्कर दी पर दो बार की पूर्व स्वर्ण पदक यिंग ने इसके बाद शानदार प्रदर्शन करते हुए 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से जीत दर्ज की। इससे पहले इस भारतीय खिलाड़ी ने सेमीफाइनल में चीन की मियाओ झांग को कड़े मुकाबले में 3-2 से पराजित किया था। 
वहीं भाविना ने क्वार्टर फाइनल में दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी बोरिस्लावा पेरिच रांकोविच को हराया था। गौरतलब है कि क्लास 4 वर्ग में वे खिलाड़ी आते हैं जिनके बैठने का संतुलन सही रहता है और हाथ पूरी तरह से काम करते हैं। उनके शरीर में विकार मेरूदंड में चोट के कारण होता है। गुजरता की रहने वाली भाविना ने अहमदाबाद के वस्त्रापुर इलाके में नेत्रहीन संघ से खेलते हुए ओलंपिक तक का सफर तय किया है। शुरुआत में इस खिलाड़ी को दुकान चलाने वाले हंसमुखभाई पटेल की बेटी भाविना को पदक का दावेदार भी नहीं माना जा रहा था पर बा