महिलाएं और पुरुष दोनों ही वर्ग घर से बाहर निकलते समय पर्स या हैंडबैग हाथ में ज़रूर लेते हैं। और उस पर्स में ज़रूरत का हर सामान महिलाएँ रख लेती हैं। जैसे कि घर की चाबी, बिल, और तमाम तरह के कागज़ात। पर क्या आप ये जानते हैं कि ऐसा करना बिल्कुल भी सही नहीं है। तो इस वीडियो में हम आपको इसी की जानकारी देने वाले हैं कि पर्स में कौनसी चीज़ें रखनी चाहिए और कौनसी नहीं।
वास्तुसशास्त्रे के मुताबिक आर्थिक तंगी से बचना हो तो पर्स में कभी भी चाबी नहीं रखनी चाहिए। फिर चाहे वह घर के ताले की या फिर ऑफिस संबंधी किसी ताले की चाबी हो। क्यों कि जब भी पर्स में चाबी रखी जाती है। इससे व्य क्ति को लगातार आर्थिक हानि का सामना करना पड़ता है।

यही नहीं अक्सर लोग बिल की रसीद लेकर वॉलेट में रख लेते हैं। बिल और पेमेंट की रसीद को पर्स में रखने से बचना चाहिए। इससे नकारात्मकता बढ़ती है और गैर जरूरी खर्चे बढ़ते हैं। पर्स में कागज के नोटों के साथ बिल की कॉपी रखने से बचें।

वास्तु शास्त्रन कहता है अगर आपने कभी भी किसी से उधार लिया है और आप उसे वह रकम लौटाने जा रहे हैं, तो ख्या ल रखें कि उधार की वह राशि पर्स में ना रखें। या फिर किसी को उधार की राशि पर ब्याजज का पैसा देना हो तो वह भी पर्स में न रखें। मान्यता है कि ऐसे धन को पर्स में रखने से ऋण और बढ़ता है साथ ही आर्थिक नुकसान की आशंका रहती है।

इसके अलावा पर्स में सिक्कें और नोट एक साथ न रखें। हमेशा अलग-अलग जगहों पर रखें। सिक्कोंऔ के लिए ध्यावन रखें कि पर्स में ऐसी जगह रखें, जहां पर आप उन्हेंल बंद कर सकें।

घर में किसी का देहांत हो जाए तो उनकी तस्वीरों से हमारा भावनात्मक जुड़ा़व हो जाता है लेकिन यह आदत हमारे धन के प्रबल योग को भी कमजोर करती है। शुभता की दृष्टि से भी यह उचित नहीं है। अपने निकटतम की स्मृतियों को घर में और यादों में सहेजे पर्स में नहीं।

चलिए अब आपको कुछ उपाय बताते हैं जिन्हें अपनाने के बाद धन संबंधी परेशानी दूर हो जाएगी। शास्त्रों में कुछ अचूक उपाय बताएं गए हैं, जिससे आपके पास धन हमेशा टिका रहेगा और पर्स कभी खाली नहीं होगा। पहले उपाय के तौर पर एक लाल कागज में अपनी इच्छा लिखकर रेशमी धागे से बांधकर पर्स में रख लें। इस उपाय को करने से आपका पर्स पैसों से भरा रहेगा। वहीं दूसरे उपाय के तौर पर पर्स में चावल रखें क्योंकि धार्मिक शास्त्रों के अनुसार पर्स में चुटकी भर चावल रखने से अनचाहे खर्च कम हो जाते हैं और धन में वृद्धि होने लगती है।