पौराणिक मान्यताओं के अनुसार ज्येष्ठ माह की अमावस्या को शनिदेवजी का जन्म हुआ था। अंग्रेजी माह के अनुसार इस बार शनि जयंती 10 जून 2021 गुरुवार को मनाई जाएगी। यह दान-पुण्य, श्राद्ध-तर्पण पिंडदान की अमावस्या भी है। इसी दिन सावित्री व्रत भी रखा जाएगा। आओ जानते हैं कि शनिदेव को आपकी कौनसी 10 आदतें पसंद नहीं है।

1. भगवान शनिदेव को पसंद नहीं है जुआ-सट्टा खेलने वाले लोग।

2. भगवान शनिदेव को पसंद नहीं है शराब पीने वाले लोग।

3. भगवान शनिदेव को पसंद नहीं है ब्याज का धंधा करने वाले लोग।


4. भगवान शनिदेव को पसंद नहीं है परस्त्री से या अप्राकृतिक रूप से सहवास करने वाले लोग।
5. किसी के खिलाफ झूठी गवाही देना या किसी के पीठ पीछे उसके खिलाफ कोई कार्य करना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।

6. निर्दोष लोग, पशु या पक्षियों को सताना, भैंस या भैसों को मारना, सांप, कुत्ते और कौवों को सताना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।

7. चाचा-चाची, माता-पिता, सेवकों और गुरु का अपमान करना, विधवा, तलाकशुदा, सफाईकर्मी और अपंगों का अपमान करना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।

8. ईश्वर के खिलाफ होना या नास्तिक बनकर लोगों में भ्रम फैलाना, धर्म का मजाक उड़ाना, देवताओं का अपमान करना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।

9. दांतों को गंदा रखना, समय पर स्नान नहीं करना और बात-बात पर गालियां बकना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।
10. तहखाने की कैद हवा को मुक्त करना, ज्ञान का घमंड करना, लोगों को अपने से नीचा समझना, छुआछूत, ऊंच-नीच मानना भी शनिदेव को पसंद नहीं है।

यदि उपरोक्त में से कोई भी एक आदत आपमें हैं तो इन्हें जल्द से छोड़कर शनिदेवजी से क्षमा मांग लें। अन्यथा जब भी शनि ग्रह का कुंडल में चक्र चलेगा तब आपको भुगतना होगा।