नई दिल्ली| भारत को रविवार को सुदीरमन कप बैडमिंटन टूर्नामेंट में हार का सामना करना पड़ा। थाईलैंड ने भारत को ग्रुप-ए के शुरूआती मैच में 4-1 से करारी शिकस्त दी। इससे टीम इंडिया के नॉकआउट में पहुंचने की उम्मीद खतरे में पड़ गई है। भारत के स्टार शटलर किदांबी श्रीकांत समेत कई खिलाड़ियों को हार का सामना करना पड़ा। सिर्फ एमआर अर्जुन और ध्रुव कपिला की पुरूष डबल्स की जोड़ी जीत दर्ज कर सकी।
 भारत के कई स्टार शटलर यह टूर्नामेंट नहीं खेल रहे थे। पीवी सिंधू, चिराग शेट्टी, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी जैसे खिलाड़ी नहीं खेल रहे थे। वहीं, सीनियर खिलाड़ी श्रीकांत, अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी यह टूर्नामेंट खेल रहे थे। श्रीकांत के अलावा पोनप्पा और सिक्की को भी हार का सामना करना पड़ा।
युवा शटलर मालविका बंसोद को भी महिला एकल में हार का सामना करना पड़ा। पूर्व नंबर एक श्रीकांत को तीन बार के विश्व जूनियर चैंपियन कुनलावुत वितिदसर्ण ने 50 मिनट के मुकाबले में 21-9, 21-19 से हराया। वहीं, सिक्की और पोनप्पा को जोंगकोलफान कितिथाराकुल और राविंडा प्राजोंगजाई की दुनिया की आठवें नंबर की जोड़ी ने 21-23 8-21 से हराया। 
मालविका को दुनिया की 10वें नंबर की खिलाड़ी पोर्णपावी चोचुवोंग ने 21-11, 21-14 से हराया। अर्जुन और कपिला ने पुरूष डबल्स में 147वीं रैंकिंग की सुपाक जोमकोह और किटिनुपोंग केड्रेन की जोड़ी पर 21-18 21-17 से शानदार जीत दर्ज की।
पांचवें और अंतिम मैच में बी साई प्रणीत और तनीषा क्रास्टो की जोड़ी को दुनिया की तीसरे नंबर की देचापोल पुवारानुक्रोह ओर सपसिरी ताराटानचाई की जोड़ी ने 21-13, 21-11 से हराया। भारत अब सोमवार को डिफेंडिंग चैंपियन चीन के खिलाफ उतरेगा। वहीं, बुधवार को भारत का सामना मेजबान फिनलैंड से होगा। भारत 2011 और 2017 में टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल तक पहुंच चुका है।