कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो व राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सरकार की नौवीं वर्षगांठ के अवसर पर भाजपा ने करारा हमला बोला है. पार्टी ने कहा है कि ममता बनर्जी का शासन कुशासन का जीवंत उदाहरण है. दावा किया गया है कि जल्द ही बंगाल में ममता बनर्जी के शासन का अंत होगा. ta

पार्टी महासचिव व प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया, “ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल में नौ साल पूर कर लिये, लेकिन जनता के नजरिये से वे बधाई के पात्र नहीं हैं. उन्होंने राज्य की जनता के साथ कोरोना संकट और अम्फन तूफान में भी सहानुभूति नहीं बरती. अब बंगाल के लोग इस अराजक राज्य से मुक्ति चाहते हैं.

उन्होंने लिखा, “पश्चिम बंगाल में तृणमूल का संपूर्ण कार्यकाल अराजकता, अत्याचार और कुशासन का जीवंत उदाहरण है। प्रदेश को ममता के कुशासन से जल्द ही मुक्ति मिलेगी”

तृणमूल कांग्रेस की नौवीं वर्षगांठ पर भाजपा ने ‘ऑर नय ममता’ अभियान को गति देते हुए भाजपा के केंद्रीय कमेटी के सदस्य मुकुल राय ने ट्वीट किया, “ममता अपने बंगाल के लोगों के बीच ही असफल रही हैं. चक्रवाती तूफान के सात दिन बीत जाने के बावजूद कोलकाता महानगर के लोग मूलभूत सुविधाओं को लेकर सड़क पर प्रदर्शन कर रहे हैं.

भाजपा की सांसद लॉकेट चटर्जी ने ट्वीट किया, “ममता बनर्जी की सरकार पूरी तरह से असफल रही हैं। कोरोना से संबंधित सूचनाएं छिपायी गयीं। क्या यह केवल अवेहलना है या फिर अक्षमता है ? पार्टी के अन्य नेताओं ने भी इसी तरह से सोशल साइट के जरिए ममता बनर्जी की सरकार की आलोचना की है.

वर्ष 2011 में आज के ही दिन ममता बनर्जी ने वाममोर्चा के 34 वर्षों के शासन का खात्मा कर बंगाल की मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला था.