रायपुर :  मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन की अध्यक्षता में मंगलवार 09 फरवरी की देर शाम मंत्रालय महानदी भवन में सूचना प्रौद्योगिकी (आई.टी.) निवेश प्रोत्साहन हेतु गठित सशक्त समिति की दसवीं बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में राज्य सूचना प्रौद्योगिकी से जुड़े विभिन्न संस्थानों की व्यवसायिक गतिविधियों की समीक्षा की गयी। साथ ही छत्तीसगढ़ में कार्य करने के इच्छुक सूचना प्रौद्योगिकी कम्पनियों के विभिन्न व्यवसायिक प्रस्ताव पर चर्चा हुई।
मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन ने कहा है कि मानक दिशा निर्देश के अनुरूप आई.टी. कम्पनियों को प्रदेश में स्थापित किया जाएगा। बैठक में इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी समर्थित सेवाओं की नीति के अंतर्गत प्राप्त निवेश प्रस्तावों पर सैद्धांतिक अनुमोदन के लिए विस्तृत रूप से चर्चा हुई और नौ आई.टी. कम्पनियों के प्रस्तावों का अनुमोदन किया गया। इन प्रस्तावों में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट, सोलर मॉडयूल, एल.ई.डी. लाईट, डाटा मेनेजमेंट, सोशल सिगनी फायर, डिजीटल क्लास रूम, मेटलकोर प्रिंटिंग, मेडिकल इलेक्ट्रॉनिक्स की ईकाइयों के राज्य में स्थापना से संबंधित प्रस्ताव शामिल है। बैठक में अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री समीर विश्नोई सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।