पटना | राष्ट्रीय जनता दल के नेता और महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने सोमवार को सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने चिराग पासवान के साथ जो किया वह ठीक नहीं है। तेजस्वी यादव ने कहा कि चिराग पासवान को अपने पिता की जरूरत पहले से ज्यादा इस समय है। उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान जी हमारे बीच नहीं हैं और हम इससे दुखी हैं। नीतीश कुमार ने चिराग पासवान के साथ अन्याय किया।
इससे पहले लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद चिराग पासवान ने रविवार को बिहार के सीएम पर आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश कुमार उनके और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं। रविवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आदरणीय नीतीश कुमार जी ने प्रचार का पूरा जोर मेरे और प्रधानमंत्री जी के बीच दूरी दिखाने में लगा रखा है। बांटो और राज करो की नीति में माहिर मुख्यमंत्री जी हर रोज मेरे और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं।
चिराग पासवान ने रविवार को ताबड़तोड़ पांच ट्वीट किए। दावा किया कि बिहार फर्स्ट की सोच जदयू के नेताओं की गले की फांस बन चुका है। प्रधानमंत्री जी के विकास के मंत्र के साथ मैं और ‘बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट’ प्रतिबद्ध है। चिराग ने कहा कि नीतीश जी को भाजपा के साथियों का धन्यवाद करना चाहिए कि वे मुख्यमंत्री के खिलाफ इतना आक्रोश होने के बावजूद गठबंधन धर्म निभा रहे हैं और हर दिन नीतीश जी को प्रमाण पत्र देते हैं कि वे चिराग के साथ नहीं हैं। 

ईमान बेचकर CM बनने की चाहत नहीं : तेजस्वी
तेजस्वी यादव ने रविवार को कहा कि अगर सीएम बनना होता तो अपना ईमान बेचकर भाजपा से हाथ मिलाकर मुख्यमंत्री बन जाते। लेकिन हमने ऐसा नहीं किया। एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राजद एक मात्र क्षेत्रीय पार्टी है, जिसने भाजपा और आरएसएस से आज तक समझौता नहीं किया। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने अपने पिता का जिक्र करते हुए कहा कि लालू जी ने हमेशा भाजपा और आरएसएस के खिलाफ लड़ाई लड़ी है।