मुंबई । टाटा डिजिटल ई-कॉमर्स मार्केट को लेकर जस्ट डायल के साथ साझेदारी की संभावनाएं तलाश रही है। दोनों कंपनियों के बीच शुरुआती दौर की बातचीत जारी है। टाटा डिजिटल के जरिए टाटा ग्रुप ई-कॉमर्स मार्केट में प्रवेश करना चाहता है। टाटा ग्रुप के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि टाटा डिजिटल और जस्ट डायल के बीच बातचीत हुई है लेकिन कुछ भी फाइनल होने के बारे में कुछ भी कहना बेहद जल्दबाजी होगी। टाटा सन्स की विलय व अधिग्रहण टीम उन संभावित साझेदारियों की एक लिस्ट बना रही है, जो टाटा डिजिटल को ऑनलाइन कंज्यूमर मार्केट में उतरने के लिए जरूरी पहुंच और बड़ा स्केल उपलब्ध करा सकें। टाटा सन्स और जस्ट डायल की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है। टाटा डिजिटल जल्द से जल्द अपना सुपर ऐप लेकर आना चाहती है। इसलिए वह कई ‎हिस्सेदारों के साथ बातचीत कर रही है। सुपर ऐप में कई सर्विस और प्रोडक्ट एक ही जगह पर उपलब्ध होंगे। जस्ट डायल की बात करें तो कंपनी ने 1996 में फोन बेस्ड सर्विस के तौर पर शुरुआत की थी। आज इसके प्लेटफॉर्म पर लोकल सर्विसेज लिस्ट हैं। जस्ट डायल 2013 में शेयर मार्केट पर लिस्ट हुई और आज इसका मार्केट कैप 5,419.98 करोड़ रुपए है। कंपनी पर कोई कर्ज नहीं है और यह मुनाफा दर्ज कर रही है।