इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन का शुक्रवार 15 अक्टूबर को रोमांचक मुकाबले के साथ समापन हुआ। चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स को हराकर चौथी बार खिताब पर कब्जा जमाया। टी20 को इस रोमांचक टूर्नामेंट के खत्म होने के तुरंत बाद ही आइसीसी टी20 विश्व कप का शुरुआत होने जा रही है। बीसीसीआइ की मेजबानी में 17 अक्टूबर के 14 नवंबर के बीच टूर्नामेंट का आयोजन यूएई और ओमान में होना है। भारत अपने अभियान की शुरुआत 14 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ करेगा।

भारत की घरेलू टी20 लीग के बाद अब इंटरनेशनल टूर्नामेंट की बारी है। साल 2016 के बाद आइसीसी टी20 विश्व कप का आयोजन एक बार फिर से होने जा रहा है। लंबे अंतराल के बाद बीसीसीआई इसकी मेजबानी करने का तैयार है। कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए टूर्नामेंट को भारत की जगह यूएई और ओमान में कराए जाने का फैसला लिया गया है।

इस टूर्नामेंट में मुख्य 12 टीमों के बीच टक्कर होने वाली है। इससे पहले क्वालीफायर मुकाबले खेले जाएंगे जिसमें चार टीमों के टूर्नामेंट में खेलने पर फैसला होगा। क्वालीफायर के लिए ग्रुप और ग्रुब बी बनाए गए हैं। पहले ग्रुप में आयरलैंड, नामीबिया, नीदरलैंड्स और श्रीलंका को रखा गया है। जबकि दूसरे ग्रुप में बांग्लादेश, ओमान, न्यू पपुआ गिनिया और स्काटलैंड है।

टूर्नामेंट की प्रमुख 12 टीमों को ग्रुप 1 और ग्रुप 2 में बांटा गया है। पहले ग्रुप में आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज के अलावा दो क्वालीफायर टीमें होंगी। इसी तरह से दूसरे ग्रुप में भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, न्यूजीलैंड के साथ दो क्वालीफायर टीमें होंगी।

भारतीय टीम का कार्यक्रम

भारतीय टीम टूर्नामेंट में उतरने से पहले 18 अक्टूबर को इंग्लैंड के साथ और फिर 20 अक्टूबर को आस्ट्रेलिया के साथ वार्म अप मैच खेलेगी। भारत को विश्व का पहला मैच चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के खिलाफ 24 अक्टूबर को खेलना है। 31 अक्टूबर को टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबला खेलेगी। इसके बाद 3 नवंबर को अफगानिस्तान के साथ भारत का मैच होगा। 5 और 8 नवंबर को भारतीय टीम टूर्नामेंट में क्वालीफायर मैच जीतकर जगह बनाने वाली टीम के साथ खेलेगी।