भोपाल : स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि कोविड केयर और क्वारेंटाइन सेंटर में लोगों की आवश्यकताओं का पूरा ध्यान रखा जाए। यहाँ घर जैसा माहौल बनाया जाये। डॉ. चौधरी बुधवार को भोपाल के राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी स्थित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिये कि कोविड केयर सेंटर और क्वारेंटाइन सेंटर पर 24x7 डॉक्टर्स की टीम तैनात की जाये। सफाई कर्मियों द्वारा नियमित रूप से साफ-सफाई सुनिश्चित की जाये। कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। स्वास्थ्य मंत्री ने अधिकारियों को ताकीद की कि भोजन की गुणवत्ता से किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाना चाहिए। समय पर नाश्ता और भोजन दिया जाना चाहिए। मंत्री डॉ. चौधरी ने निरीक्षण के दौरान कोविड केयर और क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती मरीजों से उनका हालचाल पूछा और आश्वस्त किया कि उनके लिये सभी बुनियादी सुविधाएँ और व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जायेंगी। उन्होंने क्वारेंटाइन लोगों को शीघ्र जाँच कराने के लिये आश्वस्त किया। डॉ. चौधरी ने डॉक्टर्स को निर्देशित किया कि स्वास्थ्‍य प्रोटोकॉल का पालन करते हुए ही क्वारेंटाइन व्यक्तियों की जाँच और डिस्चार्ज की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
मंत्री डॉ. चौधरी ने इलाजरत और क्वारेंटाइन लोगों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि इस कठिन समय में हम सभी को हिम्मत से काम लेना है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि उनके इलाज और देखभाल के लिये पुख्ता बंदोबस्त किये जा रहे हैं। जिन मरीजों से डॉ. चौधरी ने बातचीत की उन्होंने इंतजामों को संतोषजनक बताया।
इसके पूर्व सिविल अस्पताल बैरागढ़ के निरीक्षण के दौरान मंत्री डॉ. चौधरी ने विशेषज्ञ चिकित्सकों से अपेक्षा की कि वे अस्पताल परिसर में आने वाली गर्भवती महिलाओं का विशेष ध्यान रखें। महिला और प्रसूती वार्ड में भीड़ न होने दी जाए। स्क्रीनिंग और जाँच के बाद ही परिसर में प्रवेश दिया जाये।
निरीक्षण के दौरान प्रभारी आर.जी.पी.व्ही. कोविड केयर सेंटर डॉ. उपेन्द्र थाटे तथा अपर कलेक्टर उमराव मरावी तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।