लंदन । सोशल मीडिया प्लेटफार्म व्हाटसऐप पर कई अहम मुद्दों को लेकर समूह बनते रहते हैं। व्हाटसऐप पर ऐसा ही ग्रुप आत्महत्या के तरीकों पर डिस्कशन को लेकर बना था। जिसमें शामिल 4 लोगों की मौत के बाद पूरे ब्रिटेन में दहशत फैल गई है। पुलिस भी इन मौतों को लेकर चिंता में है। ब्रिटेन  के पोर्ट्सलैंड में 20 साल की एमी स्प्रिंगर नाम की लड़की की लाश मिली। पुलिस ने जब मामले की जांच करनी शुरू की, तो उन्हें अजीबोगरीब घटनाएं मिलने लगीं। उन्हें इस केस जुड़ा हुआ एक व्हाट्सऐप ग्रुप भी मिला, जिसे एमी ने ज्वाइन कर रखा था। इस ग्रुप में आत्महत्या के कुछ ‘बेहतर तरीकों’ को लेकर चर्चा हो रही थी।
पुलिस को एमी स्प्रिंगर के अलावा 3 और लोगों की लाश भी मिलने की जानकारी मिली। जब इसकी भी जांच की गई, तो पता चला कि एमी की ही तरह इन लोगों ने भी आत्महत्या की थी। ये सभी एक ही व्हाट्सऐप ग्रुप के सदस्य थे। एमी स्प्रिंगर  के साथ इन लोगों ने भी वाट्सऐप ग्रुप पर सुसाइड के तरीकों पर चर्चा की थी। इसके बाद ही इनके मरने की सूचना पुलिस को मिली। सभी आत्महत्याओं के तार जुड़े हुए देखकर पुलिस भी हैरान है। मरने वाले सभी लोगों ने आत्महत्या की और इससे जुड़े तरीके पहले ग्रुप पर डिस्कस कर चुके थे।
एक रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला कि लंबे समय से ही एमी तडिप्रेशन की शिकार थी। साल 2020 में वो 15 बार गायब हो चुकी थी, जबकि साल 2021 में 3 बार वो घर से बिना बाए निकल गई थी। उसने कई बार खुद को नुकसान पहुंचाने की भी कोशिश की थी। बचपन में ही उनके छोटे भाई की मौत हो गई थी। इसके बाद उनकी पारिवारिक स्थितियां ऐसी रहीं कि वे हमेशा डिप्रेशन में रही। बताया जा रहा है कि अपनी मौत से कुछ हफ्ते पहले तक उसके स्वास्थ्य में सुधार महसूस किया गया था, लेकिन फिर एक व्हाट्सऐप ग्रुप पर चर्चा के बाद उसने मौत को गले लगा लिया।