शेयर बाजार बड़ी गिरावट के साथ बंद, सेंसेक्स 746 और निफ्टी 218 अंक लुढ़का

शेयर बाजार इस साल की सबसे बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ। मुनाफावसूली के चलते बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज यानी शुक्रवार को 746 अंकों के नुकसान के साथ 48878 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एनएसई का निफ्टी भी 218 अंक लुढ़क कर 14371 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स में बजाज ऑटो, हिंदुस्तान लीवर, टीसीएस, अल्ट्राटेक और बजाज फिनसर्व को छोड़ भारती एयरटेल, ओएनजीसी, नेस्ले, टाइटन, अल्ट्राटेक, आईसीआईसीआई बैंक, स्टेट बैंक, आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एक्सिस बैंक, एचसीएलटेक, मारुति, महिंद्रा एंड महिंद्रा, इन्फोसिस , पावरग्रिड जैसे स्टाक लाल निशान बंद हुए। अगर सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो फाइनेंसशियल सर्विसेज, फार्मा, रियल्टी,  मीडिया, मेटल, प्राइवेट बैंक, निफ्टी पीएसयू बैंक लाल निशान पर बंद हुए।
                        
 शेयर बाजार की तेजी से सतर्क रहे निवेशक, कभी भी आ सकती है बड़ी गिरावट

सुबह का हाल
शेयर बाजार की आज शुरुआत कमजोर रही। बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज यानी शुक्रवार को 29.81अंकों की मामूली गिरावट के साथ 49,594.95 के स्तर पर खुला। वहीं नेशन स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के निफ्टी में भी आज कारोबार की शुरुआत लाल निशान के साथ हुई। निफ्टी आज अंकों की गिरावट के साथ के स्तर पर खुला।

गुरुवार का हाल
अमेरिका में नए राष्ट्रपति जो बाइडेन के सत्ता संभालने से वैश्विक बाजार में आई तेजी और अनुकूल बजट की उम्मीद में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स गुरुवार को पहली बार 50 हजार के ऐतिहासिक स्तर को पार कर गया। कोरोना संकट के बाद मार्च में 25,638 अंक के निचले स्तर से सेंसेक्स सिर्फ 10 महीने में दोगुना हो गया है। निवेशकों को 10 महीने में 100 फीसदी का रिटर्न मिला है।