जयपुर: मंगलवार को जैसलमेर में गहलोत समर्थक विधायकों (Gehlot Camp MLA) की मीटिंग में इसका नजारा देखने को मिला. ऐसे में आज का दिन कांग्रेस के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. पायलट और गहलोत खेमे के विधायक आज विधायक दल (CLP) की बैठक में आमने सामने होंगे.ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस बैठक में हंगामा होता है या फिर गिले शिकवे मिटाकर गहलोत और पायलट एक दूसरे को गले लगाते हैं. वहीं इससे पहले कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा था कि उन्होंने पार्टी से किसी पद की मांग नहीं की है लेकिन वह चाहते हैं कि उनके साथ आवाज उठाने वाले विधायकों के खिलाफ कोई द्वेषपूर्ण कार्रवाई नहीं हो. अपने बगावती व्यवहार से राज्य की राजनीति में घमासान मचाने के बीच लगभग एक महीने बाद जयपुर लौटे पायलट ने उम्मीद जताई कि पार्टी आलाकमान द्वारा गठित तीन सदस्यीय समिति जल्द ही अपना काम शुरू करेगी.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक मंगलवार रात हुई. बैठक में कई विधायकों ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी भी जताई गई. इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बदले राजनीतिक समीकरणों से विधायकों को अवगत कराया. 

  2. कांग्रेस ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि बागी विधायकों  को सरकार में कोई पद नहीं दिया जाना चाहिए. हालांकि उन्होंने कहा कि आलाकमान के फैसले का सम्मान करते हैं. 

  3. जैसेलमेर की बैठक में पायलट की वापसी और विधायकों की नाराजगी पर मुख्यमंत्री गहलोत ने सबसे कहा कि आलाकमान का आदेश सर माथे पर होता है, इसके साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि जिस भी विधायक ने इस संकट में पार्टी के प्रति निष्ठा रखी है उस विधायक के किसी भी हित के साथ समझौता नहीं होगा. वे इस बात का ध्यान रखेंगे कि उनके हक प्रभावित नहीं हो. 

  4. कांग्रेस के विधायक आज 11 बजे तक जयपुर लौट सकते हैं. उन्हें जयपुर के फेयरमाउंट होटल नें ठहराया जा सकता है जहां वह पहले भी ठहराए जा चुके हैं. 

  5. जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के विधायकों को होटल में विधानसभा सत्र हो जाने तक ठहराया जा सकता है. 

  6. कांग्रेस के विधायकों की आज एक मीटिंग भी होनी है, यहां गहलोत और पायलट खेमे के विधायकों का आमना सामना भी हो सकता है. 

  7. सचिन पायलट जयपुर लौट चुके हैं और आज की विधायकों की मीटिंग में शामिल हो सकते हैं. अभी तक अशोक गहलोत और सचिन पायलट ने भी मुलाकात नहीं की है.   

  8. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या कांग्रेस के विधायकों के बीच सुलह कराने के लिए CLP की बैठक तैयार कराई जा रही है, क्या इस बैठक में गहलोत और पायलट एक दूसरे के साथ नजर आएंगे. 

  9. 14 अगस्त तक राजस्थान में होने वाली हर चहलकदमी महत्वपूर्ण है. क्योंंकि 14 अगस्त से राजस्थान का विधामसभा सत्र होना है. 

  10. इधर बीजेपी ने अपनी रणनीति बदल दी है. राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक गुरुवार को जयपुर के पार्टी कार्यालय में होगी. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने बताया कि 13 अगस्त को भाजपा प्रदेश कार्यालय में विधायक दल की बैठक आयोजित होगी.