भोपाल । कोरोना का असर कम होने और वैक्सीन आने के बाद ग्वालियर व्यापार मेले को अब जिला प्रशासन द्वारा हरी झंडी दिखा दी गई है। व्यापार मेला आयोजन को लेकर कलेक्ट्रेट कार्यालय में क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक हुई। जिसमें मेला आयोजन को लेकर होने वाली तैयारियों पर मंथन हुआ। बैठक में 10 फरवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से ग्वालियर व्यापार मेले का उद्घाटन कराने का निर्णय लिया गया। बैठक में कहा गया कि मुख्यमंत्री का यदि जल्द आगमन होता है तो, 10 से पहले भी मेले का शुभारंभ किया जा सकता है। मेले में कोरोना से बचाव के लिए सभी सैलानियों एवं दुकानदारों का मास्क लगाना अनिवार्य रहेगा। साथ ही मेले के सभी गेट पर सैनेटाइजेशन की व्यवस्था की जाएगी। मेले में लगातार सैनेटाइजेश किया जाएगा। कोरोना नियमों का पालन हो इसके लिए 500 वालेंटियर लगाने की बात कलेक्टर ने कही, जिसके लिए स्व सहायता समूहों का इस्तेमाल करने पर विचार है। मेला आयोजन के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा शासन को प्रस्ताव भेजा जा रहा है। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने की। बैठक में पूर्व मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, व्यापार मेला व्यापारी संघ के अध्यक्ष महेंद्र भदकारिया, सचिव महेश मुदगल, एडीएम किशोर कान्याल, अपर कलेक्टर, रिंकेश वैश्य आदि मौजूद रहे।

50 प्रतिशत आरटीओ छूट
परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने वाहन छूट को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा की थी। चर्चा में बीते 2 साल की तरह इस साल भी मेले में 50 प्रतिशत आरटीओ छूट दिए जाने की बात रखी गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इसे लेकर सहमति जाहिर कर दी है। मेला प्राधिकरण एवं परिवहन विभाग ने भी मेले से वाहन खरीदने पर 50 फीसदी आरटीओ का प्रस्ताव शासन को भेज दिया है। वाहन डीलरों ने भी क्षेत्रिय परिवहन कार्यालय में ट्रेड लायसेंस लेने के लिए संपर्क करना शुरू कर दिया है। मेले को लेकर लोगों में भी उत्सुकता है।