नौसेना में देश की पहली महिला पायलट बनेंगी शिवांगी, यह विमान उड़ाएंगी

भारतीय वायुसेना के बाद अब भारतीय नाैसेना काे भी देश की पहली महिला पायलट मिलने जा रही है। मूलरूप से बिहार की रहने वाली शिवांगी स्वरूप को इसके लिए चुना गया है। शिवांगी फिलहाल कोच्चि (केरल) में जरूरी प्रशिक्षण हासिल कर रही हैं।
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिवांगी को चार दिसंबर काे नाैसेना दिवस पर हाेने वाले समारोह में बैज लगाया जाएगा। शिवांगी स्वरूप काेच्चि में नौसेना की ऑपरेशन ड्यूटी में शामिल होंगी और फिक्स्ड-विंग डाेर्नियर सर्विलांस विमान उड़ाएंगी।

यह विमान कम दूरी के समुद्री मिशन पर भेजा जाता है। इसमें आधुनिक सर्विलांस, राडार, नेटवर्किंग और इलेक्ट्रॉनिक सेंसर लगे हाेते हैं। बता दें कि शिवांगी स्वरूप को पिछले साल जून में वाइस एडमिरल एके चावला ने औपचारिक तौर पर नौसेना में शामिल किया था।
 

नौसेना में सब लेफ्टिनेंट चुनी गई थीं शिवांगी

शिवांगी स्वरूप ने डीएवी पब्लिक स्कूल से सीबीएसई 10वीं की परीक्षा साल 2010 में उत्तीर्ण की है, उन्हें 10 सीजीपीए मिले थे। इसके बाद उन्होंने विज्ञान विषय लेकर 12वीं की परीक्षा दी और फिर इंजीनियरिंग में दाखिला लिया। उन्होंने एमटेक में प्रवेश लेने के बाद एसएसबी की परीक्षा दी। इसके जरिए वह नौसेना में सब लेफ्टिनेंट के रूप में चयनित हुईं। ट्रेनिंग के बाद पहली महिला पायलट के लिए उनका चयन किया गया।

ये महिलाएं भी हैं पहली

भावना कांत को भारतीय वायुसेना में पहली महिला पायलट होने का सम्मान प्राप्त है। जबकि कराबी गाेगाई नौसेना की पहली महिला डिफेंस अटैची हैं। असिस्टेंट लेफ्टिनेंट कमांडर गाेगाई को अगले महीने रूस में तैनाती मिलेगी। वे कर्नाटक के करवार बेस पर रूसी भाषा सीख रही हैं। वह युद्धपाेत के निर्माण और उनकी मरम्मत में माहिर मानी जाती हैं