गोरखपुर । यूपी बोर्ड की ऑनलाइन पढ़ाई की शुरुआत के पहले ही दिन गोरखपुर में एक घटना हो गई है। इमामबाड़ा गर्ल्स इंटर कॉलेज के हाईस्कूल के गृहविज्ञान के ऑनलाइन क्लास के दौरान व्हॉट्सएप ग्रुप पर एक के बाद एक अश्लील मैसेज आने लगे। इनमें 2 वीडियो और 2 टेक्स्ट मैसेज थे। डीआईओएस को दी गई, जिन्होंने विधिक कार्रवाई के निर्देश दिये। अश्लील मैसेज जिस नंबर से भेजे गए, वह स्कूल की ही हाईस्कूल की एक छात्रा के नाम है। लॉकडाउन के कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसके लिएबोर्ड ने ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था की है। सोमवार से पढ़ाई शुरू हुई। इसके लिए इमामबाड़ा गर्ल्स इंटर कॉलेज में भी क्लास और विषयवार व्हॉट्सएप ग्रुप बनाए हैं। दोपहर में हाईस्कूल होम साइंस के ग्रुप पर शिक्षिका रीता मौर्या ने छात्राओं को पढ़ने के तौर-तरीके बताने शुरू किए तभी ग्रुप में एक नंबर से चंद सेकंड में 4 अश्लील मैसेज गिरे। शिक्षिका ने तत्काल प्रिंसिपल नाहिद आसिफ को सूचना दी। 
           प्रिंसिपल ने डीआईओएस ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया को मामले की जानकारी दी। प्रिंसिपल का कहना है कि स्कूल में उपलब्ध डाटा के आधार पर व्हॉट्सएप ग्रुप बनाये गये हैं। शिक्षिका रीता मौर्या ने गृह विज्ञान का ग्रुप बनाया था। उसी ग्रुप के एक नंबर से 4 अश्लील मैसेज आये। जिस नम्बर से मैसेज आये वह हाईस्कूल की एक छात्रा का है, जो तुर्कमानपुर में रहती है। छात्रा से पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह भदौरिया, डीआईओएस, गोरखपुर का कहना है कि ऑनलाइन क्लास के लिए बनाए व्हॉट्सएप ग्रुप पर गलत मैसेज की सूचना मिली है। प्रिंसिपल से रिपोर्ट तलब की गई है। नम्बर की जांच की जायेगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई करेंगे। साथ ही अन्य विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिये गये हैं। इस प्रकार की हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी।