लखनऊ । राजधानी के विभूति खंड थाना क्षेत्र के विराज खंड-4 में रहने वाले गन्ना विभाग के इंजीनियर योगेंद्र श्रीवास्तव के घर मंगलवार रात डकैतों ने धावा बोल दिया। उनकी बेटी और पत्नी को अलग-अलग कमरों में बंधक बनाया और नगदी जेवरात लूटकर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस का दावा है कि इंजीनियर के घर चोरी हुई है। 
प्राप्त विवरण के मुताबिक विराज खंड-4 निवासी योगेंद्र श्रीवास्तव मेरठ में गन्ना विभाग में बतौर इंजीनियर तैनात हैं। वह दो दिन की छुट्टी पर घर आए हुए थे। उनके परिवार में पत्नी निशा श्रीवास्तव, बेटी जीनिया सहित पांच लोग हैं। वह मंगलवार रात नौ बजे के करीब अपने बेटे के साथ नौचंदी एक्सप्रेस से मेरठ के लिए निकल गए। सुबह करीब पांच बजे इंजीनियर की पत्नी ने फोन कर वारदात की जानकारी दी। बदमाशों ने इंजीनियर की पत्नी और बेटी को अलग-अलग कमरों में बंधक बना लिया था और उनके साथ बदसलूकी भी की। इंजीनियर के मुताबिक, बदमाश करीब 70 हजार की नकदी और करीब चार लाख रुपये के जेवरात ले गए हैं। इंजीनियर के मुताबिक, उनकी पत्नी ने बताया कि जब बदमाश परिवार को बंधक बनाए हुए थे। उस दौरान पुलिस की जीप भी दरवाजे के सामने से गश्त करती हुई निकली लेकिन पुलिस को इस बात की भनक भी नहीं लगी कि घर में डकैत घुसे हुए हैं।
रेलवे लाइन के किनारे स्थित इंजीनियर के मकान में बदमाशों ने बगल के खाली पड़े प्लॉट से सड़क तक रास्ता तय किया। इसके बाद मेन गेट के पास दीवार फांद कर अंदर दाखिल हुए। पूरी वारदात के दौरान करीब तीन घंटे तक बदमाश घर में मौजूद रहे। इंजीनियर के मुताबिक, घर की सुरक्षा के लिए उन्होंने पुख्ता इंतजाम किया है। घर में हर तरफ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। सेंसर और हूटर भी लगाए गए हैं। ताकि कोई अनजान आदमी घुसे तो अलार्म बज जाए लेकिन मंगलवार रात बदमाशों ने जब धावा बोला तो यह काम नहीं कर रहा था।