करीम बेंजेमा के दो गोलों की सहायता से रीयाल मैड्रिड ने विल्लारीयाल को 2-1 से हराकर ला लिगा फुटबॉल खिताब जीत लिया है। यह रीयाल का इस साल का पहला खिताब है। इस जीत के साथ ही रीयाल के खिताबों की संखया कुल 34 हो गयी है।रीयाल की आरे से करीम बेंजेमा ने 29वें और 77वें मिनट में दो गोल दागे। वहीं दूसरे नंबर पर रही बार्सिलोना को एक अन्य मुकाबले में ओसासुना के हाथों हार का सामना करना पड़ा। जोस अर्नेज ने ओसासुना को बढ़त दिलायी लेकिन लियोनेल मेस्सी ने दूसरे हाफ में फ्री किक पर लीग का अपना 23वां गोल करके बार्सिलोना को बराबरी पर ला दिया। ओसासुना 77वें मिनट के बाद दस खिलाड़ियों से खेल रहा था लेकिन तब भी राबर्टो टोरेस इंजुरी टाइम में गोल करके उसे जीत दिलाने में सफल रहे। कोरोना वायरस के कारण यह लीग पिछले तीन महीने से रुकी हुई थी। रीयाल मैड्रिड अकेली टीम है जिसने अपने सभी मैच जीते हैं। रियाल के कोच जिनादिन जिदान ने कहा, ‘‘यह मेरी पेशेवर जिंदगी का सबसे अच्छे दिनों में से एक है। 
मैं चाहता था कि हम अपने प्रशंसकों के साथ स्टेडियम में इसका जश्न मनाये लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि अपनी टीम को खिताब जीतते हुए देखकर लोग अपने घरों में खुश होंगे।’’ इस जीत से रीयाल मैड्रिड के 86 अंक हो गये हैं जबकि बार्सिलोना के 79 अंक हैं।
एक अन्य मुकाबले में मालोर्का अपने घरेलू मैदान पर ग्रेनाडा से 2-1 से हारने के कारण दूसरे डिवीजन में खिसक गयी। एस्पानियोल पहले ही दूसरे डिवीजन में खिसक गयी है। लेगानेस ने एथलेटिक बिलबाओ पर 2-0 की जीत से शीर्ष लीग में बने रहने की उम्मीदें बरकरार रखी पर सेल्टा विगो को लेवांटे के हाथों 3-2 से हार का सामना करना पड़ा जिससे वह दूसरी डिवीजन में खिसकने के करीब पहुंच गया। तीसरे स्थान पर काबिज एटलेटिको मैड्रिड ने सातवें स्थान के गेटाफे को 2-0 से हराया जबकि चौथे स्थान के सेविला ने रीयाल सोसिडाड से गोलरहित ड्रा खेला। 
कोच जिनेदिन जिदान ने कहा है कि इस समय वह दुनिया के सबसे खुश इंसान हैं। जिदान ने मैच के बाद कहा, ‘यह बहुत बड़ा है। यह एक निरंतर लड़ाई है। 38 मैच हैं और केवल अंत में आप आज की तरह कुछ शानदार हासिल कर सकते हैं। सबसे पहले मैं खिलाड़ियों का बहुत आभारी हूं क्योंकि वे बाहर मैदान पर लड़ रहे हैं।’
उन्होंने कहा, ‘मेरी अपनी भी जिम्मेदारी है और मैं टीम के साथ हूं, लेकिन यह टीम का प्रयास है। यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि है और अविश्वसनीय रूप से भावनात्मक है। स्पेनिश लीग जीतना बहुत कठिन है, वास्तव में बहुत कठिन है।’ जिदान के कोच रहते रियल मैड्रिड का दूसरा खिताब है। उनकी कोचिंग में टीम ने इससे पहले 2017 में यह खिताब अपने नाम किया था। 48 साल के जिदान ने कहा, ‘यह अद्भुत है। हम जिस चीज से गुजरे हैं वह आसान नहीं है। यह एक बहुत ही कठिन ला लीगा सीजन रहा है। लेकिन अंत में, हमारे विश्वास और कड़ी मेहनत को धन्यवाद। हमें विश्वास था और खिलाड़ी इस संबंध में पहले हैं क्योंकि वे ही हैं जो पिच पर बाहर जाते हैं। मैं उनके लिए खुश हूं।’ दिग्गज फुटबॉलर ने कहा, ‘ऐसे लोग हैं जो कहते हैं कि खुशी कोई आवाज नहीं है, लेकिन मैं अंदर ही अंदर दुनिया का सबसे खुश व्यक्ति हूं। समर्थन के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया।’