इन्दौर । श्री राधा कृष्ण सत्संग मंडल ने  व्यापारी बाहुल्य क्षेत्र छावनी स्थित मुरली मनोहर मंदिर से भव्य फाग यात्रा निकाली। मुरली मनोहर मंदिर की इस फाग यात्रा में सभी भक्तों ने फूलों और सूखे रंगों से होली खेल पानी बचाने का संदेश भी दिया। परंपरागत प्रतिवर्ष आयोजित होने वाली मुरली मनोहर मंदिर की इस फाग यात्रा में राधा-कृष्ण की वेशभूषा में कलाकारों ने नृत्यों की प्रस्तुति से सभी का मन मोह लिया। वहीं नासिक के गुलाबवाड़़ी व्यायामशाला और नासिक के ढोल ग्रुप के कलाकारों की प्रस्तुति ने इस फाग यात्रा को ओर यादगार बना दिया। व्यापारी बाहुल्य क्षेत्र में निकली इस फाग यात्रा में सभी मातृशक्तियों के साथ-साथ हजारों की संख्या में युवा और बच्चे भी शामिल हुए थे। 
श्री राधा कृष्ण सत्संग मंडल से जुड़े डिंपल सैनी, मनीष खंजाची, महेश गर्ग ने जानकारी देते हुए बताया कि मुरली मनोहर मंदिर की फाग यात्रा की शुरूआत सभी भक्तों द्वारा मुरली मनोहर की आरती व गुलाल लगाकर की। इसके पश्चात मंदिर परिसर में मातृशक्तियां एवं युवतियों ने राधा-कृष्ण के भजनों पर नृत्य की प्रस्तुति भी दी। पारसी मोहल्ला स्थित मुरली मनोहर मंदिर से निकली फाग यात्रा में सभी पुरूष श्वेत वस्त्र एवं महिलाएं सतरंगी साड़ी पहन शामिल हुई थी। मंदिर परिसर से जैसे ही मुरली मनोहर को फूलों से सुसज्ति चलित रथ में विराजमान किया गया तो वहां उपस्थित सभी भक्त मुरली मनोहर की जय-जयकार करते नजर आए। वहीं फाग यात्रा में एक और जहां कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति से सभी का मन मोह रहे थे तो वहीं मातृशक्तियां भी फूलों और सूखे रंगो से होली खेल सभी को पानी बचाने का संदेश देते हुए मार्ग में चल रही थीं। मुरली मनोहर मंदिर की इस फाग यात्रा के अग्र भाग में बच्चे घोड़े पर संवार थे तो वहीं बैंड-बाजे भी फाग गीतों की प्रस्तुति देते हुए चल रहे थे। फाग यात्रा के मध्य भाग में युवा एवं मातृशक्तियां भजनों पर नाचते-झूमते यात्रा के मार्ग में चल रहे थे। यात्रा में नासिक गुलाबवाड़ी व्यायामशाला के कलाकारों की टीम ने अपनी प्रस्तुति से फाग यात्रा में सभी की खूब तालियां बटोरी। फाग यात्रा में मुरली मनोहर फूलों से सुसज्जित चलित रथ में विराजमान थे। यात्रा में भजन गायकों ने अपनी सुमधुर भजनों की प्रस्तुति देकर पूरे छावनी क्षेत्र को फागमय बना दिया था।  फाग यात्रा में राधा-कृष्ण का फूलों का श्रृंगार, राधा-कृष्ण होली रास, फूलों की होली, नृत्यों की प्रस्तुति विशेष आकर्षण का केंद्र रहे। वहीं यात्रा श्री राधा कृष्ण सत्संग मंडल से जुड़ी मातृशक्तियां भी अपने भजनों की प्रस्तुति देते हुए मार्ग में चल रही थीं। छावनी स्थित पारसी मोहल्ले से निकली फाग यात्रा में मुख्य रूप से गिरिश अग्रवाल, ताराचंद अग्रवाल राजेश प्रजापत एवं कमलेश तिवारी सहित व्यापारी एवं हजारों की संख्या में मातृशक्तियां एवं युवा वर्ग शामिल था।
:: महिलाओं और युवतियों के लिए अलग व्यवस्था :: 
श्री राधा कृष्ण सत्संग मंडल से जुड़े डिंपल सैनी और मनीष खजांची ने बताया कि छावनी से परंपरागत 18 वर्षों से मुरली मनोहर की फाग यात्रा निकाली जा रही हैं। इस व्यापारी बाहुल्य क्षेत्र में निकलने वाली फाग यात्रा में हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी महिलाओं और युवतियों के लिए अलग व्यवस्था की गई थी। महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था के लिए मंडल द्वारा 100 से अधिक कार्यकर्ताओ को उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारियां दी गई थी।  जिससे इस फाग यात्रा में महिलाओं और युवतियों को अधिक से अधिक जोड़ा जा सके।