बर्मिंगम । विश्व चैम्पियन भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु यहां जापान की नोजोमी ओकुहारा से तीन सेट तक चले महिला एकल क्वॉर्टरफाइनल में पराजित हो गई  और ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप से बाहर हो गईं। चौबीस साल की भारतीय खिलाड़ी ने शानदार शुरूआत की लेकिन इसे गंवा बैठीं और 68 मिनट में हार गईं। अंतिम आठ के मुकाबले में ओकुहारा ने सिंधु को 12-21 21-15 21-13 से मात दी। सिंधु की हार से भारत का इस सुपर 1000 टूर्नामेंट में अभियान भी समाप्त हो गया। इस मैच से पहले सिंधु का ओकुहारा पर रेकॉर्ड 9-7 था। उन्होंने विश्व चैम्पियनशिप 2019 के फाइनल में इस जापानी खिलाड़ी केा मात दी थी। सिंधु ने पहले गेम में 3-0 से बढ़त बनानी शुरू की और इसे 7-2 तक ले गईं। ओकुहारा ने अंतर कम करने की कोशिश में स्कोर 5-8 कर दिया लेकिन ब्रेक तक सिंधु ने पांच अंक की बढ़त बनाए रखी और ओकुहारा की गलती से जल्द ही 21-12 से इसे जीत लिया। ओकुहारा ने इसके बाद सिंधु को बैकफुट पर रखने की कोशिश की और 5-2 से बढ़त बना ली और फिर उन्होंने तेज रैलियों से भारतीय को गलतियां करने पर मजबूर करते हुए इसे 7-3 कर दिया। हालांकि सिंधु ने ओकुहारा की अनफोर्स्ड गलतियों का फायदा उठाया और अंतर कम किया जो 8-10 हो गया। ब्रेक तक जापानी खिलाड़ी ने तीन अंक की बढ़त बनाए रखी। सिंधु इसके बाद रैलियों में लय नहीं बना सकीं और ओकुहारा ने 16-9 की बढ़त बना कर इसे 21-15 से अपने नाम कर 1-1 से बराबरी हासिल कर ली। निर्णायक गेम में ओकुहारा का दबदबा जारी रहा जिसमें उन्होंने 5-2 से शुरूआत की। जापान की खिलाड़ी ने सिंधु को आक्रामक होने का मौका नहीं दिया और ब्रेक तक 11-5 से बढ़त बना ली। भारतीय के लिए गलतियों का दौर जारी रहा और ओकुहारा 19-11 से आगे हो लीं। अंत में जापान की खिलाड़ी ने सात मैच प्वाइंट जुटाकर अगले दौर में प्रवेश किया।