वाराणसी । यूपी में आगामी वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी काशी से करेंगी। इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ, मां कुष्मांडा, बाबा काल भैरव दरबार का दर्शन करेंगी। जिसके बाद वहां रैली में 7 वचनों के साथ चुनावी शंखनाद करेंगी। 10 अक्टूबर को वाराणसी में जगतपुर स्थित इंटर कॉलेज में प्रियंका की प्रतिज्ञा रैली को संबोधित करने वाली है। सियासी गलियारों में पूर्वांचल का केंद्र माने जाने वाले बनारस में प्रियंका धार्मिक और सियासी दौरा दोनों एक साथ कर रही हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय ने बताया कि 10 अक्टूबर को प्रियंका सबसे पहले बाबा विश्वनाथ और दुर्गाकुंड स्थित कुष्मांडा देवी के दर्शन करेंगी। इसके बाद रैली में जनता को संबोधित करेंगी। रैली को लेकर कांग्रेस के नेता खासा इंतजाम कर रहे हैं। राय का कहना है कि ये महारैली आयोजित है।जिसमें 2 लाख से अधिक की भीड़ होगी।रैली में प्रियंका गांधी जनता को 7 वचन देंगी और सरकार बनने के बाद सबसे पहले उन वचनों को निभाएंगी। ये 7 वचन क्या है इसका खुलासा प्रियंका रैली में ही करेंगी, लेकिन इन वचनों को देते वक्त प्रियंका बाकायदा हाथ उठाकर प्रतिज्ञा करेंगी।बता दें कि लखीमपुर में सियासी बढ़त लेने के बाद प्रियंका का दौरा सीधे वाराणसी में होना है।इसके बाद कांग्रेस नेताओं में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है।
बता दें कि ‘हम वचन निभाएंगे के नाम से एक बस यात्रा निकाली जायेगी। जोकि बनारस, अयोध्या, सहारनपुर, आगरा और झांसी जैसे यूपी के 5 अलग-अलग हिस्सों से निकाली जायेगी।कांग्रेस की ये प्रतिज्ञा यात्रा करीब 12 हजार किलोमीटर से अधिक की दूरी तय कर हर बड़े गांव और कस्बे से होकर गुजरेगी। जिसका नेतृत्व संबंधित क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के निर्धारित पैनल द्वारा होगा। प्रियंका गांधी इस दौरान बनारस के जगतपुर इंटर कॉलेज मैदान पर आयोजित एक विशाल जनसभा को सम्बोधित कर कांग्रेस प्रतिक्षा यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगी। और फिर बनारस के बाद अयोध्या, सहारनपुर, आगरा और झांसी से निकलने वाली कांग्रेस प्रतिक्षा यात्रा में भी शामिल होकर बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर निशाना साधते हुए नजर आएंगी।