नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 नवंबर को केदारनाथ  में आदि शंकराचार्य समाधि का उद्घाटन करने के बाद उनकी प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इसके अलावा पीएम मोदी कई प्रमुख बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी करेंगे। साथ ही वह पूरे हो चुके व चल रहे बुनियादी ढांचे के कार्यों की समीक्षा और निरीक्षण करेंगे।
बता दें कि 2013 की त्रासदी के बाद शंकाराचार्य की समाधि का पुनर्निर्माण किया गया है। संपूर्ण पुनर्निर्माण कार्य प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में किया गया है। जिन्होंने परियोजना की प्रगति की लगातार समीक्षा और निगरानी की है। प्रधानमंत्री सरस्वती आस्थापथ पर चल रहे और पूर्ण हो चुके कार्यों की समीक्षा और निरीक्षण करेंगे। साथ ही वह यहां पर एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे।
जिन परियोजनाओं का पीएम मोदी उद्घाटन करेंगे, उनमें सरस्वती रिटेनिंग वॉल आस्थापथ और घाट, मंदाकिनी रिटेनिंग वॉल आस्थापथ, तीर्थ पुरोहित हाउस और मंदाकिनी नदी पर गरुड़ चट्टी पुल शामिल हैं। परियोजनाओं को 130 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से पूरा किया गया है।
इनके अलावा वह संगम घाट के पुनर्विकास, प्राथमिक चिकित्सा और पर्यटक सुविधा केंद्र, प्रशासनिक कार्यालय और अस्पताल, दो गेस्ट हाउस, पुलिस स्टेशन, कमांड एंड कंट्रोल सेंटर, मंदाकिनी आस्थापथ कतार प्रबंधन और वर्षा आश्रय तथा सरस्वती नागरिक सुविधा भवन सहित 180 करोड़ रुपये से अधिक की कई परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे।