नई दिल्ली । खेल दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बधाई दी और देश में खेल को लोकप्रिय बनाने के लिए लगातार प्रयास करने की बात भी कही है। हॉकी के जादूगर के नाम से लोकप्रिय मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन 29 अगस्त को हर साल खेल दिवस  के तौर पर मनाया जाता है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'भारत सरकार खेल को लोकप्रिय बनाने और खेल प्रतिभाओं को समर्थन देने के लिए कई प्रयास कर रही है। मैं सभी से खेल और फिटनेस को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाने की अपील करता हूं। ऐसा करने के कई लाभ हैं। हर कोई खुश और स्वस्थ हो सकता है। मोदी ने इसके साथ ही सभी खिलाड़ियों को उनकी उपलब्धियों के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा, 'आज राष्ट्रीय खेल दिवस पर हम मेजर ध्यानचंद को श्रद्धांजलि देते हैं, जिनकी हॉकी के जादू को देश कभी भूल नहीं सकता। आज हमारे प्रतिभाशाली एथलीटों की सफलता के लिए परिवारों, कोचों और सहयोगी कर्मचारियों द्वारा दिए गए शानदार समर्थन की भी सराहना करने का अवसर है। राष्ट्रीय खेल दिवस उन सभी खिलाड़ियों की उपलब्धियों का जश्न मनाने का दिन है, जिन्होंने विभिन्न खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और देश को गर्व अनुभव करने का अवसर दिया।  कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार खेल अवार्ड समारोह वर्चुअल रुप से आयोजित किया जा रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए खिलाड़ियों से जुड़ेंगे जबकि अवार्ड हासिल करने वाले खिलाड़ी अपने अपने राज्यों के खेल प्राधिकरण (साई) परिसरों पर रहेंगे।  इस साल अलग-अलग वर्ग में कुल 74 लोगों को ये पुरस्कार दिए जाने हैं जिनमें से 64 लोग ही कार्यक्रम में रहेंगे। कुछ खिलाड़ी देश के बाहर होने की वजह से भी इस समारोह में शामिल नहीं होंगे।