2 हजार अतिरिक्त बल होगा तैनात, 40 पायलट, 80 PSO तैयार, मानस भवन के बाद ग्वारीघाट, भेड़ाघाट भी जाएंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद।

6 और 7 मार्च को को जबलपुर और दमोह में कई कार्यक्रमों में होंगे शामिल
6 मार्च को मानस भवन में ज्यूडिशियल एकेडमी के दीक्षांत परेड के हैं मुख्य अतिथि

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन पर सुरक्षा व्यवस्थाओं को लेकर व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं। प्रोटोकॉल के तहत राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए दो हजार अतिरिक्त बल की मांग की गई है। 6 मार्च को जबलपुर ज्यूडिशियल एकेडमी के दीक्षांत परेड में आ रहे राष्ट्रपति के साथ ही सुप्रीम कोर्ट और अन्य राज्यों के जस्टिस भी आ रहे हैं। इसे देखते हुए 40 पायलट अधिकारियों और 80 PSO (पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर) को ट्रेंड किया गया है। भोपाल से तैयारियों की प्रतिदिन समीक्षा हो रही है।

जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति 6 मार्च को जबलपुर आएंगे और रात्रि विश्राम भी करेंगे। अगले दिन वह दमोह जाएंगे। छह मार्च को राष्ट्रपति का मानस भवन में ज्यूडिशियल एकेडमी के दीक्षांत परेड में शामिल होंगे। इसके बाद वह ग्वारीघाट में नर्मदा महाआरती में शामिल हो सकते हैं। राष्ट्रपति के भेड़ाघाट जाने का भी कार्यक्रम तैयार हो रहा है। हालांकि अभी उनका मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम जारी नहीं हुआ है।

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा सहित दूसरे अधिकारियों ने सर्किट हाउस का लिया जायजा।

प्रशासनिक तैयारियां तेज

राष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए डुमना एयरपोर्ट से लेकर शहर तक, सड़क से लेकर डिवाइडर तक का रंगरोगन हाे रहा है। वहीं IG भगवत सिंह चौहान, SP सिद्धार्थ बहुगुणा, कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, निगम कमिश्नर संदीप जीआर सहित अन्य अधिकारी तैयारियों का जायजा लेने में जुटे हैं। कलेक्टर ने सर्किट हाउस में तैयारियों की जांच की। RI सौरभ तिवारी के मुताबिक राष्ट्रपति समेत सभी VVIP के लिए 40 पायलट और 80 PSO को प्रशिक्षण देकर तैयार कर लिया गया है। जिला प्रशासन ने 131 वाहनों की भी मांग की है।


LIB भी सक्रिय

राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर सेना के साथ LIB भी सक्रिय है। IG एवं LIB की टीमें 24 घंटे काम कर इनपुट ले रही है। गुरुवार और शुक्रवार की तैयारियों काे लेकर अधिकारियों की बैठक हुई। अधिकारियों ने मानस भवन, ग्वारीघाट और सर्किट हाउस के साथ डुमना एयरपोर्ट का निरीक्षण किया। SP सिद्धार्थ बहुगुणा के मुताबिक प्रोटोकॉल के अनुसार राष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं। PHQ को पत्र भेजकर बल उपलब्ध कराने के लिए बोला गया है।

ग्वारीघाट में महाआरती में शामिल होंगे राष्ट्रपति।

मां नर्मदा की महाआरती में शामिल होंगे राष्ट्रपति

राष्ट्रपति के शहर आगमन को देखते हुए लोकसभा के मुख्य सचेतक सांसद राकेश सिंह ने दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और जबलपुर की धरोहरों के साथ रानी दुर्गावती के जीवन चरित्र के बारे में बताया। सांसद ने राष्ट्रपति से न्यायालयीन कार्यक्रम के साथ मां नर्मदा की महाआरती में शामिल होने का आग्रह किया। इस पर राष्ट्रपति भवन से सहमति मिल चुकी है।