अयोध्या |  अयोध्या में पांच अगस्त को होने जा रहे कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पीएम नरेन्द्र मोदी पहले विशेष विमान से लखनऊ आएंगे। यहां अमौसी स्थित एयरपोर्ट पर पांच मिनट में विशेष विमान से उतरकर चॉपर में सवार होकर अयोध्या के लिए निकल जाएंगे। पीएम मोदी का विशेष विमान 10:25 बजे लखनऊ एयरपोर्ट उतरेगा। यहां उनका स्वागत होगा जिसके तुरंत बाद वह चॉपर से 10:30 बजे अयोध्या के लिए रवाना हो जाएंगे। सूत्रों ने बताया कि पीएम मोदी 11 बजकर 15 मिनट पर अयोध्या पहुंचेंगे। अयोध्या में वह दो से ढाई घंटे का ही समय देंगे। इसके बाद 3:00 बजे उनका चॉपर लखनऊ उतरेगा। वापस अपने विशेष विमान से पीएम मोदी 3:15 के करीब दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।वहीं, सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम में अंतिम समय में भी बदलाव हो सकता है। प्रधानमंत्री के आगमन को ध्यान में रखते हुए राजधानी के चौधरी चरण सिंह अन्तरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। प्रधानमंत्री का कोई कार्यक्रम फिलहाल एयरपोर्ट से बाहर आने का नहीं है फिर भी सुरक्षा घेरा बढ़ा दिया गया है। सीआईएसएफ के डॉग स्क्वॉड सक्रिय हो गए हैं। कई टुकड़ियां चप्पे चप्पे पर निगरानी कर रही हैं। एयरपोर्ट आने वाले वाहनों की भी चेकिंग की जा रही है।

हनुमानगढ़ी में विशेष पूजा करेंगे पीएम मोदी
पीएम मोदी हनुमानगढ़ी में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ एक विशेष पूजा करेंगे, जो भगवान हनुमान को समर्पित मंदिर है और फिर राम जन्मभूमि में भूमि पूजन के लिए जाएंगे। हनुमानगढ़ी मंदिर के पुजारी मधुवन दास ने बताया कि हनुमान जी के बिना भगवान राम का कोई भी काम शुरू नहीं होता है इसीलिए पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ हनुमानगढ़ी मंदिर आ रहे हैं। वह यहां पर विशेष पूजा करेंगे और फिर हनुमान जी का आशीर्वाद लेकर जन्मभूमि स्थली पर राम मंदिर के निर्माण की नींव रखेंगे।

मुख्य मंच पर मोदी, भागवत, आनंदीबेन, योगी व नृत्यगोपाल बैठेंगे
राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सूत्रों के अनुसार दो सौ से ढाई सौ लोगों के बैठने को सोशल डिस्टेसिंग के साथ बैठाने के पंडाल का क्षेत्रफल बढ़ा कर दो गुना कर दिया गया है। इसके साथ दो अलग-अलग मंच भी तैयार किया जा रहा है। फिलहाल मुख्य मंच पर पीएम मोदी व संघ प्रमुख मोहन भागवत, प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन व मुख्यमंत्री योगी समेत रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास विराजमान होंगे।