नई दिल्ली । ग्लोबल पेमेंट कंपनी वीजा ने अपने नेटवर्क में पेटीएम पेंमेंट बैंक को शामिल किया है। इसके तहत पेटीएम जल्द ही वीजा अंकित डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी कर सकता है। भारत में तकरीबन 30 करोड़ लोग पेटीएम का इस्तेमाल करते हैं। बात दे कि पेटीएम के साथ हाथ मिलाकर वीजा कंपनी इस ग्राहक वर्ग को अपने साथ जोड़ना चाहती है। पेटीएम बैंक अभी तक अपने साथ अकाउंट खोलने वाले कस्टमर्स को डिजिटल डेबिट कार्ड्स उपलब्ध करा रहा था। अब ग्राहकों को फिजिकल कार्ड्स भी जारी किए जाएंगे। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा लाइसेंस प्राप्त सात पेमेंट बैंकों में से एक पेटीएम, अभी तक रुपे डेबिट कार्ड जारी कर रही थी। पेटीएम पेमेंट्स बैंक आगे भी ग्राहकों को रूपे डेबिट कार्ड जारी करती रहेगी। फिलहाल बैंक में 4.4 करोड़ वर्चुअल सेविंग्स अकाउंट हैं। 
वीजा के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर एलफ्रेंड एफ कैली ने बताया,हम पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ मिलकर क्रेडिट कार्ड्स ऑफर करने के प्लान पर काम कर रहे हैं। इससे पेटीएम के लगातार बढ़ते कस्टमर बेस को बेहतर सेवाएं ऑफर की जा सकेंगी। भारत और दक्षिण एशिया में वीजा ग्रुप के कंट्री मैनेजर टीआर रामचंद्रन के मुताबिक,पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने औपचारिक तौर पर एक मेंबर के रूप में वीजा नेटवर्क को ज्वाइन किया है, इससे जल्द ही पेटीएम भारतीय बाजार में वीजा कार्ड्स इश्यू कर सकेगा। दरअसल 2016 में मोदी सरकार के द्वारा की गई नोटबंदी के बाद पेटीएम के इस्तेमाल में तेज उछाल आया। तब से अब तक कंपनी ने कई बदलाव किए हैं। पिछले कुछ महीनों से कंपनी अपने प्वाइंट ऑफ सेल सॉल्यूशंस बड़ा रही है। हाल ही में कंपनी ने अपना पेमेंट टर्मिनल भी लांच किया, जिससे सभी तरीके के कार्ड्स को एक्सेप्ट किया जा सके।