भोपाल : मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री विशेष गढ़पाले ने मैदानी इंजीनियरों को निर्देश दिए हैं कि जन-प्रतिनिधियों व उपभोक्ताओं से सतत संवाद रखा जाए। उनकी समस्याओं को समय पर हल किया जाए। उपभोक्ताओं के बिजली बिल की एक्यूरेसी (शुद्धता) पर ध्यान रखें, ऑनलाइन भुगतान को मैदानी स्तर पर प्रोत्साहित करें।श्री गढ़पाले ने कहा कि आबादी क्षेत्र को 24 घंटे एवं कृषि कार्य के लिए 10 घंटे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। सभी मैदानी अधिकारी अपने मोबाइल फोन चालू रखें। उन्होंने कहा कि बिल सुधार के प्रयासों, मेंटेनेंस आदि की जानकारी उपभोक्ताओं व जन-प्रतिनिधियों को समय पर दी जाए। यदि किसी फीडर पर फाल्ट हो गया है तो उसकी सूचना भी वितरण केन्द्र स्तर तक के वाट्सएप ग्रुप या फोन से प्रमुख उपभोक्ता एवं जन प्रतिनिधियों को दी जाए। मैंटेनेंस गुणवत्तापूर्ण हो ताकि वहां जल्दी कोई खराबी नहीं आये। प्रबंध संचालक ने कहा कि मैंटेनेंस समेत बिजली के सभी कार्यों में सुरक्षा का पूरा ध्यान रखें। लाइनों पर कार्य के दौरान झूला, हेलमेट, ग्लब्ज आदि पहनकर काम किया जाए।

राजस्व संग्रह पर ध्यान दें
कंपनी के प्रबंध संचालक ने कहा कि राजस्व संग्रह पर विशेष ध्यान दें। बकायादार उपभोक्ताओं से फोन, ई-मेल, एस.एम.एस., व्हाट्सएप के जरिए बिल जमा करने का आग्रह करें। लाइन स्टाफ एवं अन्य स्टाफ को राजस्व संग्रह के लिए बकायादारों से संपर्क के लिए कहें ताकि राजस्व संग्रह प्रभावी ढंग से हो सके।