पाकिस्तान और अफगानिस्तान में गुरुवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, पाकिस्तान के इस्लामाबाद और काबुल में धरती कांपी है. काबुल में आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.2 रही, जबकि इस्लामाबाद में आए भूकंप की तीव्रता 4.3 रही. इन दोनों झटकों में करीब 10 मिनट का अंतर रहा. 

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, अफगानिस्तान के काबुल के 273 किमी NNE में सुबह 5 बजकर 33 मिनट पर 4.2 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया. इसके तकरीबन 10 मिनट बाद यानी 5 बजकर 43 मिनट पर इस्लामाबाद से 40 किमी पश्चिम 4.3 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया. इस दौरान जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है.

इससे पहले 16 सितंबर को नेपाल में भूकंप का तगड़ा झटका महसूस किया गया था. स्थानीय समयानुसार, सुबह 5:19 मिनट पर भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया. काठमांडू से सटे सिन्धुपालचोक जिले के राम्चे में भूकंप का केंद्र था. भू-गर्भ मापन केन्द्र के अनुसार, भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.0 थी. 

सिन्धुपालचोक जिला के भोटेकोशी गाउंपालिका अध्यक्ष राजकुमार पौडेल ने बताया था कि जिले में तीन बार भूकम्प के झटके महसूस किए गए. उन्होंने कहा कि भूकंप का झटका तेज था, लेकिन अब तक किसी भी नुकसान की खबर नहीं आई. भूकंप यह झटका नेपाल के काठमांडू, सिन्धुपालचोक, पोखरा, चितवन, वीरगंज, जनकपुर तक महसूस किया गया.

इसके अलावा भारत-नेपाल सीमा से लगे बिहार के जिलों में भी झटके महसूस किए गए. हालांकि, गनीमत की बात है कि यहां पर भी किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं थी.