देश में पिछले 6 महीनों से कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार हो रहा है। इसकी वजह से शुरूआती तीन महीनों तक संपूर्ण लॉकडाउन पूरे देश में लागू रहा। अब अनलॉक की प्रक्रिया पूरे देश में चल रही है, लेकिन छत्तीसगढ़ में अभी भी संक्रमण का तेजी के साथ प्रसार हो रहा है। छत्तीसगढ़ के कई शहरों में बड़ी तादात में ताजा मामलों के सामने आने के बाद स्थानीय लोग स्वस्फूर्त होकर प्रशासन से लॉकडाउन की मांग कर रहे हैं। पिछले दिनों नागरिकों की इसी मांग के बाद कलेक्टर के निर्देश पर राजनांदगांव में लॉकडाउन लॉगू हुआ था। बिलासपुर संभाग के कई शहरों में कलेक्टर के आदेश पर लॉकडाउन लागू है। इसी क्रम में मुंगेली जिले में भी आज से एक सप्ताह का लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। मुंगेली जिले में वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर पीएस एल्मा के निर्देश पर 17 सितम्बर से 23 सितंबर तक जिले में लॉकडाउन किया गया है। नगर में आवश्यक सामग्री की दुकानों के अलावा कोई भी व्यवसाय, प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति नहीं दी गई है। गुरुवार को सुबह से अभी तक दुकानें नहीं खुली है। सदर बाजार, बस स्टैंड रोड, लोरमी- कवर्धा रोड, रायपुर रोड, मुंगेली-बिलासपुर रोड में दुकानें बंद है। लोगों से अपील की गई है कि वे फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें, मास्क जरूर पहनें और जरूरी होने पर घरों से बाहर बिल्कुल निकलें।